कोरोन में आई कमी के बाद यूपी में स्कूल खुलने का हुआ फैसला, तीसरी लहर से है सावधान!

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के स्‍कूलों (schools) को 16 अगस्‍त से खोलने का निर्णय सूबे की योगी आदित्‍यनाथ सरकार (CM yogi) ने लिया है लेकिन फिलहाल 50 फीसदी छात्रों की ही उपस्थिति की इजाजत दी गई है। यूपी में 9वीं से 12वीं तक के स्कूल 50 प्रतिशत क्षमता के साथ स्कूल खुलेंगे। इसके अलावा कोविड प्रोटोकॉल (COVID-19) का सख्‍ती से पालन करान का भी आदेश दिया गया है। गौरतलब है कि देश के कई राज्‍यों में दो अगस्‍त से स्‍कूल खोले जा चुके हैं। सोमवार को आयोजित टीम 9 की बैठक में यह निर्णय लिया गया। इस बारे में आधिकारिक घोषणा उप मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री दिनेश शर्मा करेंगे।

9वीं से 12वीं तक के स्कूल

यूपी में 9वीं से 12वीं तक के स्कूल 50 फीसदी क्षमता के साथ खुलेंगे। स्कूल प्रशासन को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना अनिवार्य है। इसके तहत टीचर्स, छात्रों और स्टाफ को स्कूलों में मास्क पहनना अनिवार्य है। स्कूलों में प्रवेश से पहले थर्मल स्क्रीनिंग, छात्रों को सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन, छात्रों को स्कूल आने के लिए अपने परिजनों की लिखित सहमति लेना अनिवार्य होगा इसके बिना छात्रों को स्कूल में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा।

कॉलेज और यूनिवर्सिटी का आदेश

वहीं प्रदेश सरकार ने 1 सितंबर से कॉलेज और यूनिवर्सिटी खोलने के भी आदेश जारी कर दिए हैं। साथ ही माध्यमिक शिक्षा विभाग के प्रोमोटेड छात्रों की प्रवेश प्रक्रिया शुरू करने के भी निर्देश दिए गए हैं। बता दें कि हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट के छात्रों की प्रवेश प्रक्रिया 5 अगस्त से शुरू होगी।

25 नए मरीज ही मिले

यूपी में कोरोना की रोकथाम के लिए अपनाए गए ‘थ्री टी’ मतलब ट्रेसिंग, टेस्टिंग और ट्रीटमेंट फॉर्मूले के अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। प्रदेश में अब तक 6 करोड़ 59 लाख 89 हजार 652 कोविड सैम्पल की जांच की जा चुकी है। बीते 24 घंटे में प्रदेश में 2 लाख 38 हजार 888 कोविड सैम्पल की जांच की गई जिसमें से सिर्फ 25 नए मरीजों की पुष्टि हुई है।

Related Articles