SP-BSP गठबंधन के बाद अब उत्तर प्रदेश में कांग्रेस बोली-80 सीटों पर लड़ेंगे चुनाव

0

लखनऊ : लोकसभा चुनाव 2019 में उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (एसपी) और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के गठबंधन में जगह न मिल पाने के बाद बौखलाई कांग्रेस ने रविवार को अपने दम पर लोकसभा में चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस ने कहा कि वह सभी 80 सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी और चुनाव में आश्चर्यजनक प्रदर्शन करेगी। इस बीच, ऐसी भी खबरें हैं कि कांग्रेस राज्य के पूर्व सीएम अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव के संपर्क में है। हालांकि कहा जा रहा है कि यहां भी सीटों को लेकर पेच फंसा है। बता दें कि शनिवार को एसपी और बीएसपी ने मिलकर राज्य में 38-38 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है। इस गठबंधन में कांग्रेस को कोई जगह नहीं दी गई है हालांकि अमेठी और रायबरेली सीट पर गठबंधन कांग्रेस के खिलाफ कोई उम्मीदवार नहीं उतारेगी।

कांग्रेस पार्टी के महासचिव और यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने यहां एक पार्टी की आधिकारिक प्रेस कॉन्फ्रेंस में लोकसभा चुनाव का बिगुल फूंकते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश में सभी 80 सीटों पर पूरी ताकत के साथ लोकसभा का चुनाव लड़ेगी। आजाद ने यह भी कहा है कि देश में होने वाले चुनाव में मुख्य मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच होना है, जिसके लिए पार्टी ने अपनी तैयारियां करनी शुरू कर दी है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में राज्य कांग्रेस चीफ राज बब्बर भी मौजूद थे।

इससे पहले माना जा रहा था कि कांग्रेस यूपी में एसपी-बीएसपी के साथ होने वाले गठबंधन में हिस्सेदार बन सकती है। ऐसा कहा जा रहा था कि कांग्रेस पार्टी को महागठबंधन में हिस्सेदारी दी जा सकती है, लेकिन शनिवार को एसपी-बीएसपी द्वारा गठबंधन का ऐलान किए जाने के बाद इन संभावनाओं पर विराम लग गया। अब कांग्रेस ने राज्य में अकेले चुनाव लड़ने की घोषणा भी कर दी है।

loading...
शेयर करें