TRAI के इस फैसले के बाद, टेलाकॉम इंडस्टरी में आया तूफान

मोबाइल कंपनियों के संगठन COAI ने इस फैसले को गलत बताते  हुए कहा है कि इसके खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाया जा सकता है । COAI के महानिदेशक राजन मैथ्यूज ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि में यह एक अनर्थकारी कदम है… ज्यादातर सदस्य कंपनियों ने संकेत दिया है कि वे संभवत: इस मामले में राहत के लिए अदालत का दरवाजा खटखाटाएंगे।

ट्राई के पूर्व चेयरमैन राहुल खुल्लर ने भी मैथ्यूज के इन विचारों से सहमति जताई है। ट्राई ने कहा है कि 6 पैसे प्रति मिनट का नया कॉल टर्मिनेशन चार्ज 1 अक्टूबर 2017 से प्रभावी होगा और 1 जनवरी 2020 से इसे पूरी तरह से खत्म कर दिया जाएगा। ट्राई ने अपने बयान में कहा है कि उसने यह फैसला भागीदारों से मिली राय के आधार पर किया है।

 

 

 

 

 

 

 

Previous page 1 2 3

Related Articles