उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के बाद दिल्ली सरकार ने कावंड़ यात्रा को किया रद्द

नोएडा: देश को तीसरी लहर से बचाने के लिए दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) ने दिल्ली (Delhi) कांवड़ यात्रा (Kanwar Yatra) को रद्द कर दिया है। दिल्ली ने यह फैसला उसने कोविड-19 (Covid-19) के मद्देनजर किया। दिल्ली(Delhi) (Delhi) आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के इस फैसले की सोशल मीडिया पर दी है। आपको बता दें कि इससे पहले उत्तराखंड की सरकार ने भी कोरोना को ध्यान में रखते हुए कांवड़ यात्रा रद्द करने का फैसला किया था। शनिवार को ही उत्तर प्रदेश सरकार ने भी इस साल की कांवड़ यात्रा रद्द करने का फैसला किया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कोरोना संक्रमण से लोगो के बचाव के लिए कावंड़ यात्रा (Kavand Yatra) को रद्द कर दिया है। पिछले वर्ष भी सीएम योगी (CM Yogi) ने कांवड़ संघों के साथ बातचीत के बाद खुद ही यात्रा स्थगित कर दी थी। इस बार भी सरकार ने संघों की सहमति से ही शनिवार को यह फैसला लिया है।

यूपी व यूके इस भी रद्द की कावंड़ यात्रा

उत्तर प्रदेश से पहले उत्तराखंड सरकार ने कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के चलते इस बार भी कांवड़ यात्रा को रद्द करने का फैसला किया है। कोरोना महामारी के बीच धार्मिक आयोजनों को लेकर सुप्रीम कोर्ट भी अपना सख्त रुख अपनाए हुए है । योगी सरकार के कांवड़ यात्रा को मंजूरी देने पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को नोटिस जारी किया था। इसके बाद हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि कांवड़ यात्रा को प्रतीकात्मक रखा जाए, क्योंकि भारत के नागरिकों के स्वास्थ्य और जीवन का अधिकार सर्वोपरि है।

एक भी मौत नहीं

इस बीच देश की राजधानी दिल्ली से एक अच्छी खबर सामने आई है कि पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण से एक भी मरीज की जान नहीं गई है। रविवार को जारी हुए पिछले 24 घंटे की कोरोना रिपोर्ट के आधार पर कहा जा सकता है कि राजदानी के लोग कोरोना से चल रही जंग लगातार जीतते जा रहे हैं। दिल्‍ली में पिछले 24 घंटों की बात की जाए तो रोना संक्रमण के सिर्फ को 51 नए मरीज सामने आए हैं। वहीं एक दिन में करीब 80 लोग कोरोना को हरा स्वस्‍थ हो गए हैं।

Related Articles