अरुण पाटिल राजस्थान एमिटी यूनिवर्सिटी के प्रेसिडेंट बने

0

जयपुर। मशहूर शिक्षाविद प्रोफेसर अरुण पाटिल को राजस्थान की एमिटी यूनिवर्सिटी का प्रेसिडेंट नियुक्त किया गया है। ऑस्ट्रेलिया में 20 वर्ष तक काम करने के बाद प्रोफेसर अरुण पाटिल राजस्थान की एमिटी यूनिवर्सिटी का कामकाज संभालेंगे।

इस मौके पर पाटिल ने कहा, “हमारे देश में छात्रों को क्वॉलिटी एजुकेशन मुहैया कराना सबसे बड़ी चुनौती है। इंडियन यूनिवर्सिटीज अभी भी वल्र्ड टॉप 200 यूनिवर्सिटीज में शामिल नहीं है। शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्ता सुनिश्चित करना मेरी सबसे बड़ी प्राथमिकता है इसलिए मैं ऑस्ट्रेलिया से भारत आया हूं। इस समय विश्वस्तरीय गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के मानकों और इससे संबंधित रैकिंग की अच्छी जानकारी उपलब्ध नहीं है।”

प्रोफेसर पाटिल ऑस्ट्रेलिया की डीकेन यूनिवर्सिटी में अनुबंध पर काम कर रहे थे। रूस की टॉमस्क पॉलिटेक्नीक यूनिवर्सिटी में विजिटिंग प्रोफेसर रह चुके हैं। वियतनाम की हो ची मिन्ह यूनिवर्सिटी ऑप टेक्निकल एजुकेशन में वह सलाहकार भी रह चुके हैं। पाटिल को उच्च शिक्षा के क्षेत्र में योगदान के लिए कई पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है।

एमिटी यूनिवर्सिटी जॉइन करने से पहले प्रोफेसर पाटिल पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स वर्क स्टडीज के डायरेक्टर और स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग में डीकेन इंजीनियरिंग एजुकेशन रिसर्च (डीईईआर) के निदेशक रह चुके हैं। इससे पहले वह सेंट्रल क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी के डीन और ऑस्ट्रेलिया की मोनाश यूनिवर्सिटी के प्रोजेक्ट ऑफिसर रह चुके हैं। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की मोनाश यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग में मास्टर और पी.एचडी. की डिग्री हासिल की है। उन्हें अध्यापन, रिसर्च और मैनेजर लेवल पर 30 साल से ज्यादा का अनुभव हासिल है।

loading...
शेयर करें