नॉर्थ पोल ( North Pole ) पर उड़ान भर एयर इंडिया ( Air India ) की महिला पायलटों ( Female Pilots ) ने रचा इतिहास ( History )

Air India की 4 महिला पायलटों की टीम ने दुनिया के सबसे लंबे हवाई मार्ग उत्तरी ध्रुव ( नॉर्थ पोल ) पर उड़ान भर एक नया इतिहास रच दिया है।

नई दिल्ली: महिलाओं को लेकर आज के इस दौर में लोगों की सोच बदल गई है। आज के इस दौर में महिलाएं हर क्षेत्र में नाम कमा रही हैं। एयर इंडिया ( Air India ) की महिला पायलटों की टीम ने कुछ ऐसा कर दिखाया है जो आने वाले दौर में हर कोई याद रखेगा। दरअसल महिला पायलटों की टीम ने दुनिया के सबसे लंबे हवाई मार्ग उत्तरी ध्रुव के ऊपर से उड़ान भर इतिहास रच दिया है। महिला टीम ने जैसे ही फ्लाइट को लैंड किसा वैसे ही उनकी चारों तरफ प्रसंशा होने लगी है। इस विमान की महिला पायलटों की टीम को कैप्टन जोया अग्रवाल लीड कर रही थीं।

बता दें कि Air India की 4 महिला पायलटों की टीम ने दुनिया के सबसे लंबे हवाई मार्ग उत्तरी ध्रुव ( नॉर्थ पोल ) पर उड़ान भर एक नया इतिहास रच दिया है। सैन फ्रांसिस्को से उड़ान भरने के बाद महिला पायलटों की टीम नॉर्थ पोल से होते हुए बेंगलुरु के एयरपोर्ट पर पहुंची।

एयर इंडिया ने दी बधाई

महिला पायलटों की टीम ने जैसे ही बेंगलुरु में लैंड हुईं। तभी उनकी चारों तरफ प्रसंशा होने लगी। फ्लाइट के लैंड करते ही एयर इंडिया ने इनका स्वागत किया और ट्वीट कर लिखा, ‘वेलकम होम, हमें आप सभी पर गर्व है। हम AI176 के यात्रियों को भी बधाई देते हैं, जो इस ऐतिहासिक सफर का हिस्सा बने।’

यह भी पढ़ें: शिकागो में गोलीबारी से दहशत, बंदूकधारी ने सात लोगों को मारी गोली

क्या बोलीं जोया?

बता दें कि इस विमान को लीड कैप्टन जोया अग्रवाल कर रही थीं। इस उपलब्धि को हासिल करने के बाद विमान को लीड कर रही कैप्टन जोया अग्रवाल ने कहा, दुनियाभर में ज्यादातर लोग अपनी जिंदगी में नॉर्थ पोल या इसका नक्शा भी नहीं देख पाएंगे। मैं सच में खुद को बहुत भाग्यशाली मानती हूं कि नागरिक उड्डयन मंत्रालय और हमारे फ्लैग कैरियर ने मुझ पर भरोसा जताया। नॉर्थ पोल के ऊपर से सैन फ्रैंसिस्को से बेंगलुरु तक दुनिया की सबसे लंबी और बोइंग 777 से पहली उड़ान को कमांड करने वाकई सुनहरा अवसर है।

उड्डयन मंत्री ने की सराहना

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने महिला पायलटों की इस उपलब्धि को लेकर कहा, ‘कॉकपिट में प्रोफेशनल, योग्य और आत्मविश्वासी महिला पायलट ने एयर इंडिया के विमान से सैन फ्रांसिस्को से बेंगलुरु के लिए उड़ान भरी है और वे उत्तरी ध्रुव से गुजरेंगी। हमारी नारी शक्ति ने एक ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल की है।’

यह भी पढ़ें: व्हाट्सएप (Whatsapp) की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर कारोबारियों ने लिखा केंद्र को पत्र, बोले देश की सुरक्षा को खतरा

Related Articles

Back to top button