कृषि कानूनों के खिलाफ अकाली दल 17 सितंबर को मनाएगा ‘काला दिवस’

चंडीगढ़: शिरोमणि अकाली दल तीन केंद्रीय कृषि कानूनों को लागू करने के एक साल पूरे होने पर 17 सितंबर को ‘काला दिवस’ के रूप में मनाएगा। पार्टी के एक नेता ने रविवार को यह जानकारी दी। किसानों के साथ पार्टी कार्यकर्ता उस दिन नई दिल्ली में गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब से संसद तक कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग करते हुए विरोध मार्च निकालेंगे।

शनिवार की बैठक में हुआ फैसला

पार्टी अध्यक्ष सुखबीर बादल की अध्यक्षता में शनिवार को यहां हुई बैठक में इस संबंध में निर्णय लिया गया। पार्टी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष दलजीत चीमा ने मीडिया को बताया कि पंजाब के किसानों के साथ पार्टी के नेता और कार्यकर्ता विरोध मार्च में हिस्सा लेंगे।

पिछले साल इसी दिन पार्टी नेताओं, हरसिमरत कौर बादल और सुखबीर बादल ने संसद में तीन कृषि कानूनों के पारित होने का विरोध किया था और वे केवल दो सांसद थे जिन्होंने विधेयकों के खिलाफ मतदान किया था। उसके बाद अकाली दल की प्रतिनिधि हरसिमरत कौर ने केंद्रीय मंत्रालय से इस्तीफा दे दिया और पार्टी ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) छोड़ दिया और भाजपा के साथ अपना 24 साल पुराना गठबंधन तोड़ दिया।

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर के राजौरी में मुठभेड़ जारी, सुरक्षाबलों ने ढेर किया एक आतंकी

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)..

Related Articles