अखिलेश ने BJP सरकार पर लगाया पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की गुणवत्ता से समझौता करने का आरोप, बताया आधा-अधूरा

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने सोमवार को भाजपा सरकार पर पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की गुणवत्ता से समझौता करने का आरोप लगाया, ताकि इसका श्रेय लेने के लिए परियोजना लागत में कटौती की जा सके और 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले इसका उद्घाटन किया जा सके।

सपा प्रमुख ने संवाददाताओं से कहा, “इसे सस्ता करने के लिए इसकी गुणवत्ता से समझौता किया गया है। चुनाव से पहले इसका श्रेय लेने के लिए भाजपा अधपके पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन करने जा रही है।” उन्होंने कहा कि एक्सप्रेस-वे की नींव उनकी पार्टी के कार्यकाल में ही रखी गई थी।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी 16 नवंबर को सुल्तानपुर में एक्सप्रेसवे का उद्घाटन करने वाले हैं। 42,000 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित, एक्सप्रेसवे लखनऊ के चांद सराय गांव से शुरू होता है। यह लखनऊ, बाराबंकी, अमेठी, अयोध्या, सुल्तानपुर, अंबेडकर नगर, आजमगढ़, मऊ और गाजीपुर से होकर गुजरेगी।

UP के CM योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ से गाजीपुर होते हुए आजमगढ़ तक छह लेन पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के निर्माण का शुभारंभ किया था। भविष्य में एक्सप्रेस-वे को आठ लेन तक बढ़ाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: PM Modi in Bhopal: आदिवासियों की दुर्दशा के लिए कांग्रेस को ठहराया जाएगा जिम्मेदार

Related Articles