यूपी की राजनीति में बढ़ रहा ट्विस्ट, चाचा को अखिलेश ने दिया दीवाली गिफ्ट

यूपी की राजनीति में लगातार ट्विस्ट बढ़ता जा रहा है। अखिलेश यादव से नाराज चल रहे चाचा शिवपाल यादव ने एक साथ आने का ऐलान कर दिया है।

इटावा: यूपी की राजनीति में लगातार ट्विस्ट बढ़ता जा रहा है। अखिलेश यादव से नाराज चल रहे चाचा शिवपाल यादव ने एक साथ आने का ऐलान कर दिया है। तो इसी को देखते हुए अखिलेश यादव ने भी चाचा की तरफ हाथ बढ़ाकर उन्हें दीवाली के गिफ्ट के तौर पर शिवपाल यादव की परम्परागत सीट जसवंतनगर पर प्रत्याशी नहीं उतारने का ऐलान किया।

चाचा को अखिलेश का गिफ्ट

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि सपा विधानसभा के आगामी चुनाव में जसवंतनगर सीट से कोई प्रत्याशी नहीं उतारेगी। क्योंकि वो उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव की परम्परागत सीट है और वो यहीं से विधानसभा का चुनाव लड़ते हैं। उन्होंने कहा कि  विधानसभा चुनाव के बाद अगर सपा की सरकार बनती है तो शिवपाल यादव को कैबिनेट मंत्री भी बनाया जायेगा।

गठबंधन से किया इंकार

अखिलेश यादव से जब गठबंधन को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने इस बात से साफ इंकार दिया। अखिलेश ने कहा कि पार्टी छोटे दलों के साथ तालमेल करेगी।

बिहार चुनाव पर बोले अखिलेश

बिहार विधानसभा चुनाव के बारे में अखिलेश ने कहा कि वहां सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल कर महागठबंधन को हराया गया। जनता का मिजाज बदलाव का था लेकिन गठबंधन सरकारी मशीनरी के आगे हार गया।

यूपी उपचुनाव पर अखिलेश का तंज

उत्तर प्रदेश में भी 7 सीटों के उपचुनाव परिणाम पर भी अखिलेश यादव ने कहा कि जब जिलाधिकारी, पुलिस के बड़े अधिकारी से सिपाही तक सरकार की मदद में लगे हैं। तो जीतने की उम्मीद नहीं की जा सकती। वहीं अखिलेश यादव ने एक बार फिर दोहराया कि भाजपा और कांग्रेस एक जैसे हैं और दोनों से समान दूरी बहुत जरूरी है।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी की बॉर्डर वाली दिवाली, चीन को चेतावनी, आंख उठाकर ना देखें वरना अंजाम बुरा हो सकता है

Related Articles

Back to top button