अखिलेश को वैज्ञानिकों और डाक्टरों की योग्यता पर नहीं है भरोसा : कृषि मंत्री

देवरिया : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही (Agriculture Minister Surya Pratap Shahi) ने रविवार को कहा कि कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) पर भड़काऊ बयान देने वाले समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) से सूबे की जनता जानना चाहती है कि उनकी शिक्षा दीक्षा किस विद्यालय में हुयी है।

कृषि मंत्री शाही ने नव सृजित थाना महुआडीह का उदघाटन करते हुए कहा “ सपा अध्यक्ष का यह कहना कि कोरोना का टीका भाजपा का टीका है। बहुत ही हास्यापद है। ऐसा बयान देकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने इंडियन काउंसिल रिसर्ज (ICR) समेत देश के वैज्ञानिकों और डाक्टरों की योग्यता पर सवाल खड़े किये हैं।”

इसे भी पढ़े: “किसानों के साथ पूरा देश खड़ा है, मोदी, शाह की निकल जाएगी गलतफहमी”

कृषि मंत्री ने कहा “ अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) कहते हैं कि ये भाजपा का कोरोना टीका है, उसको नहीं लगायेंगे। मंत्री ने तंज कसते हुए कहा कि क्या भाजपा वैज्ञानिकों की संस्था हैं अथवा भाजपा की देश में कोई प्रयोगशाला है जहां कोरोना का टीका बनाया जा रहा है।”

शाही ने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा है कि मकर संक्रान्ति के बाद प्रदेश में कोरोना का टीका लगाना शुरू हो जायेगा। भाजपा सरकार का दायित्व है कि देश प्रदेश के लोग स्वस्थ रहें और उसी के तहत देश व प्रदेश की सरकारें अपने देश की जनता के लिए कोरोना का टीका लगवाने जा रही है लेकिन इसमें भी सपा को राजनीति दिख रही है।

अभी तक 51 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदारी

कृषि सुधार बिल पर शाही ने कहा कि कुछ लोग किसानों की दीन दशा सुधारने के लिए लाये कृषि बिल पर लोगों में गफलत पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। जब से प्रदेश में योगी सरकार आई है किसानों की दशा सुधारने का कार्य किया जा रहा है। सपा शासन काल में जहां 7 लाख मीट्रिक टन अनाज की खरीदारी हुई थी, वहीं हम लोगों ने इस कोरोना काल में भी 37 लाख मीट्रिक टन गेंहू की खरीदारी और अभी तक 51 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदारी की है।

शाही ने कहा कि सपा शासन काल में जहां 10 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद होती थी। वहीं अभी तक किसानों का 51 लाख मीट्रिक टन धान खरीदें जा चुके हैं। सपा पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि जहां सपा शासन काल में किसानों को 2 हजार करोड़ रूपये का भुगतान होता था,वहीं हम लोगों की सरकार में किसानों को 9 हजार करोड़ रूपये का भुगतान किया गया है।

किसानों के लिए काम कर रही सरकार

उन्होंने कहा कि हमारी केन्द्र वह प्रदेश की सरकारों ने किसानों के लिये काम कर रही है। गन्ना किसानों के गन्ना मूल्य का भुगतान समय से किया जा रहा है। पीएम मोदी किसानों की आमदनी दो गुनी करने के लिये काम कर रहे हैं। किसान अगर सुखी नहीं होगा तो, देश आत्मनिर्भर नहीं हो सकता है। इसी कारण सरकार किसानों को खुशहाल बनाने के लिये कार्य कर रही है लेकिन कुछ लोग किसानों की खुशहाली में बाधा बनकर उन्हें बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button