अखिलेश यादव का बीजेपी पर हमला, पत्थर फेंको, MLC तोड़ो

0

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव लगातार बीजेपी पर हमलावर हुए हैं। पार्टी के तीन एमएलसी के पार्टी छोड़ बीजेपी में शामिल होने और गुजरात में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के काफिले पर पथराव की घटना को लेकर अखिलेश यादव ने हमला बोला है। अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि पत्थर फेंको, एमएलसी तोड़ो।’

आपको बता दें कि अमित शाह के दौरे के पहले बुक्कल नवाब और यशवंत सिंह ने समाजवादी पार्टी से इस्तीफा दे दिया। उसके बाद बीजेपी में शामिल हो गए। वहीं कल भी एक एमएलसी सरोजिनी अग्रवाल भाजपा में शमिल हो गईं। अपने नेताओं के पार्टी छोड़ देने से अखिलेश यादव भड़के हुए हैं। उन्होंने बीजेपी पर विधायकों को खरीदने का आरोप लगाया है। वहीँ इन्ही मुद्दों पर घेरते हुए अखिलेश ने कल भाजपा का नाम लिए बिना किए गए एक ट्वीट में कहा, ‘पत्थर फेंको, एमएलसी तोड़ो।’

शुक्रवार को समाजवादी पार्टी (सपा) की विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) सरोजिनी अग्रवाल ने अपने पद से इस्तीफा देकर भाजपा का दामन थाम लिया। मेरठ की रहने वाली सपा एमएलसी सरोजिनी ने शुक्रवार को अपना इस्तीफा विधान परिषद के सभापति रमेश यादव को सौंप दिया। उसके बाद उन्होंने खुद के भाजपा में शामिल होने का ऐलान किया।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के 29 जुलाई को लखनऊ पहुंचने से चंद घंटों पहले सपा को एक बड़ा झटका लगा था। जहां सपा के एमएलसी और प्रवक्ता बुक्कल नवाब समेत तीन एमएलसी ने विधान परिषद के सभापति रमेश यादव को अपना इस्तीफा सौंपा था। गौरतलब है कि इन इस्तीफों से एमएलसी के तीन पद खाली होंगे। इससे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा एमएलसी के तौर पर सदन में जा सकते हैं।

अपने पद पर बने रहने के लिए इन तीनों की विधान परिषद् का सदस्य होना आवश्यक है। अभी तक तीनो किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ गोरखपुर के संसद हैं जबकि केशव प्रसाद मौर्या फूलपुर के संसद हैं। वहीं दिनेश चन्द्र शर्मा मेयर हैं।

loading...
शेयर करें