अखिलेश यादव ने घोषणापत्र किया जारी और कहा – बीजेपी के पास बताने के लिए कोई काम नहीं

लखनऊ. कांग्रेस के बाद अब एसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने शुक्रवार को पार्टी का घोषणापत्र जारी कर दिया. मेनिफेस्टो का ऐलान करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि, सामाजिक न्याय से महापरिवर्तन के विचार के साथ हम चुनाव में उतरे हैं. सामाजिक न्याय से महापरिवर्तन पर आधारित हमारा डॉक्युमेंट जनता को समर्पित है. इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोलते हुए उनकी नीतियों की आलोचना की. उन्होंने कहा कि, बीजेपी के पास जनता को बताने के लिए कुछ भी नहीं है.

अखिलेश यादव ने घोषणा पत्र जारी करते हुए कहा कि बीजेपी सरकार बेरोज़गारी, किसानों की आत्महत्या के आंकड़े छिपा रही है. ये ज़रूरी है कि सभी आंकड़े जनता के सामने आएं. अखिलेश यादव ने कहा कि हमने जो काम किया वही हमारी विश्वसनीयता है

अखिलेश यादव ने आगे कहा कि ‘अमीरी-गरीबी की खाई बेहद गहरी हो चुकी है। हम सभी वर्गों के हितों का ध्यान रखेंगे. सामाजिक न्याय से महापरिवर्तन एक नई दिशा- एक नई उम्मीद के साथ हमने लक्ष्य तय किये है.

अखिलेश ने कहा कि बिना प्राइमरी एजुकेशन को ठीक किये कुछ सही नहीं हो सकता.देश में जीएसटी लागू होने से व्यापारियों का नुकसान हुआ है. नोटबंदी से व्यापारी उबर भी नहीं पाए थे कि जीएसटी (GST) ने उनकी कमर तोड़ दी. उन्होंने कहा कि सबका साथ सबका विकास के लिए एक साथ आना होगा. हम तो किसान का पूरा कर्ज माफ होने के पक्ष में हैं. बिना महिलाओं को बराबर का सम्मान दिये विकास अधूरा है.

भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर निशाना साधते हुए अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि भाजपा (Bhartiya Janta Party) के पास बताने के लिए कोई काम नहीं है. भाजपा (BJP) सरकार बेरोज़गारी, किसानों की आत्महत्या के आंकड़े छिपा रही है. ये ज़रूरी है कि सभी आंकड़े जनता के सामने आएं.

Related Articles

Back to top button