अपने संबोधन में अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर लगाये गंभीर आरोप

0

लखनऊ| लखनऊ के रमाबाई अंबेडकर मैदान में शनिवार को समाजवादी पार्टी का आठवां राज्य सम्मेलन हुआ। इस अधिवेशन की बड़ी बात ये रही कि इसमें न तो सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव शामिल हुए और न ही पूर्व प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव। पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस सम्मेलन की शुरुआत की। अपने संबोधन में अखिलेश ने योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी के पास विकास का कोई मुद्दा नहीं जनता उन्हें वोट करके पछता रही है। अखिलेश ने कहा कि प्रदेश सरकार ने जो श्वेत पत्र जारी किया, वह सफेद झूठ का पुलिंदा है। हमने अभी तो दिल्ली वाली सरकार का आंकलन किया ही नहीं। हमने उनसे भी ज्यादा कार्य किया है।

अखिलेश ने कहा कि हम बलिया तक एक्सप्रेस वे को लाना चाहते थे। सरकार बनती तो सबसे पहले हम ये काम करते। इससे लोगों का विकास होता, किसानों का विकास होता। व्यापरियों को लाभ मिलता लेकिन ये सरकार सड़कें तक नहीं सही करा पा रही। अखिलेश ने आगे कहा कि मेट्रो के चलने पर कुछ लोगों ने कहा कि पीएम का सपना पूरा कर रहा है। लेकिन वाराणसी में मेट्रो पहुंचाने का पीएम का सपना कब तक पूरा होगा।

उन्होंने कहा कि बीजेपी लखनऊ के अलावा कहीं और मेट्रो चला ही नहीं पायेगी। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि किसानों की कर्जमाफी का वादा करने वालों ने पहली कैबिनेट में ही धोखा दिया। पहले तो किसानों को अलग कर दिया फिर मामूली पैसे देकर सर्टिफिकेट बांट दिए।

अखिलेश ने कहा कि ये बिजली की सुविधा नहीं दे पा रहे। 102 और 108 एंबुलेंस को ठप कर दिया। गांव के लोगों का थाने से उत्पीड़न ना हो इसलिए 100 नंबर लाए थे। मुख्यमंत्री मानते हैं कि 100 नंबर में भ्रष्टाचार है। इसकी जिम्मेदारी भी तो उनकी है। हमसे सीख कर ही बीजेपी प्रदेशों में ही 100 नंबर शुरू करने जा रही है।

अखिलेश ने कहा कि समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश की राजनीति में बड़ी हैसियत है। हमने कई बार कहा कि शिक्षा के आंकड़े बेहतर करने हैं तो सबसे पहले यूपी की स्थिति को बेहतर करना होगा। स्वास्थ्य में देश को आगे बढ़ाना है तो यूपी के लोगों का स्वास्थय बेहतर होना चाहिए। यूपी की ही जनता देश की राजनीति में बदलाव ला सकती है।

इस दौरान अखिलेश यादव ने शिवपाल यादव पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मैं समाजवादियों से कहना चाहूँगा कि वो नकली समाजवादियों से बच कर रहें। साथ ही उन्होंने कहा कि नेताजी मेरे पिता हैं और उनका आशीर्वाद हमेशा हमारे साथ रहेगा।

loading...
शेयर करें