RSS से माफी मांगने के बाद ही होगी अख्तर की फिल्मों की स्क्रीनिंग 

मुंबई : मशहूर लेखक और गीतकार जावेद अख्तर के एक कार्यक्रम में हिंदू राष्ट्र का नारा देने वालों की तुलना तालिबान से करने के खिलाफ विरोध तेज हो गया है। इस कड़ी में महाराष्ट्र से बीजेपी के विधायक राम कदम ने एक बयान जारी कर कर कहा कि जब तक जावेद RSS से माफ़ी नहीं मांग लेते तब तक उनकी फिल्मों की स्क्रीनिंग नहीं होने दी जाएगी।

RSS की सोच चला रही सरकार : कदम

इस कड़ी में कदम ने ट्विटर पर अपना बयान जारी कर कहा  की जावेद अख्तर की ओर से यह बयान शर्मनाक होने के साथ ही संघ और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं की बेइज्जती करने वाला भी है। उन्होंने आगे कहा संघठन के कार्यकर्ता समाज के निर्धन तबके की सेवा करते हैं और अख्तर ने अपने बयान से उन्हें बेइज्जत किया है।

कदम ने कहा, “ऐसा बयान देने से पहले अख्तर को सोचना चाहिए था कि इसी विचारधारा वाले लोग अब सरकार चला रहे हैं और राज धर्म निभा रहे हैं। अगर विचारधारा तालिबानी होती तो क्या वह ऐसी बात कह पाते। इससे पता चलता है कि उनके बयान कितने हल्के हैं। हम उनकी किसी फिल्म को तब तक नहीं चलने देंगे, जब तक वह संघ के पदाधिकारियों से माफी नहीं मांगते।”

यह भी पढ़ें : यूएई : रेजिडेंसी Guidelines पेश करते हुए कई नियमों को किया सरल

Related Articles