राज्य के सभी सरकारी व सार्वजनिक भवनों का तत्काल हो निरिक्षण- सीएम योगी

लखनऊ : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने सभी मण्डलायुक्तों तथा जिलाधिकारियों को सरकारी भवनों (Government buildings) की स्थिति का निरीक्षण करने के निर्देश दिए तथा कहा कि यदि विद्यालय अथवा अस्पताल का संचालन जर्जर भवन में मिले, तो तत्काल इनका संचालन अन्यत्र करते हुए जर्जर भवन के ध्वस्तीकरण की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। यदि ठीक होने की स्थिति हो तो तुरंत मरम्मत की जाये ।

मुख्यमंत्री आज यहां बैठक में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकारी तथा निजी क्षेत्र में संचालित सभी बेसिक एवं माध्यमिक स्तर के विद्यालयों तथा डिग्री काॅलेजों आदि के भवनों का गहन निरीक्षण किया जाए। इसी प्रकार सभी सार्वजनिक भवनों (Public buildings) का भी निरीक्षण किया जाए। उन्होंने कहा कि सरकारी काॅलोनियों के भवनों (buildings) का निरीक्षण कर यह देखा जाए कि यह दुरुस्त अवस्था में हैं अथवा नहीं।

लक्ष्य की पूर्ति के बाद भी धान खरीद रहेगी जारी

मुख्यमंत्री ने धान खरीद कार्य को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए और कहा कि आवश्यकतानुसार धान क्रय केन्द्रों पर अतिरिक्त काटों का प्रबन्ध किया जाए, ताकि किसानों को अपनी उपज बेचने में सुविधा हो। धान खरीद कार्य निरन्तर संचालित किया जाए। धान क्रय के तहत लक्ष्य की पूर्ति हो जाने के बाद भी खरीद का कार्य निरन्तर जारी रखा जाए। उन्होंने कृषि उत्पादन आयुक्त को इस सम्बन्ध में स्पष्ट सर्कुलर जारी करने के निर्देश दिए हैं।

इसे भी पढ़े: ऋचा चड्ढा की फिल्म ‘मैडम चीफ मिनिस्टर’ का पोस्टर रिलीज, अहम भूमिका में लखनऊ के कई नए चेहरे

मुख्यमंत्री ने कहा कि कल 06 जनवरी, से किसान कल्याण मिशन का शुभारम्भ किया जा रहा है। किसान कल्याण मिशन के माध्यम से अधिक से अधिक किसानों को लाभान्वित करने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि यह आयोजन अन्तर्विभागीय समन्वय से सम्पन्न किया जाए।

Related Articles