देश की मिट्टी के लिए विदेशी चमक छोड़ आया ऑल टाइम टॉपर पियूष

photoकानपुर। हाईस्कूल से लेकर IIT तक टॉप करने वाले पियूष श्रीवास्तव को विदेशी धरती भी अपनी चमक से आकर्षित नहीं कर पाई। कैलिफोर्निया से पीएचडी करने के बाद उन्होंने कानपुर IIT में शिक्षक बनने की इच्छा जताते हुए आवेदन किया है। उनके इस आवेदन से परिवार वालों के साथ साथ IIT प्रशासन भी उत्साहित है।

राष्‍ट्रपति स्‍वर्ण पदक भी मिल चुका है

इलाहाबाद के रहने वाले पियूष श्रीवास्तव ने हाईस्कूल, इंटरमीडिएट और जेईई में आल इण्डिया टॉप किया था। फिर IIT कानपुर में साल 2009 में टॉप किया। उन्हें राष्ट्रपति स्वर्ण पदक भी मिला। इसके बाद उन्‍होंने कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में पीएचडी के लिए दाखिला लिया। अब पीएचडी पूरी होने के बाद देश में ही बसने व कुछ करने के इरादे से IIT कानपुर में शिक्षक बनने की सोचकर लौटे हैं। इसके लिए उन्होंने बाकायदा आवेदन भी किया है।

IIT से बीटेक करके गए थे

उन्होंने कम्प्यूटर साइंस एन्ड इंजीनियरिंग स्टूडेंट को पढ़ाने की इच्छा जताई है। इस बात की पुष्टि डीन आफ एकेडमिक अफेयर्स प्रो. मणीन्द्र अग्रवाल ने की। उन्‍होंने बताया कि आल टाइम टॉपर की घर वापसी हो रही है। वह IIT से बीटेक करके गए थे। अब पढ़ाने आ रहे हैं। पीयूष के इस फैसले से उनके परिवार के सभी सदस्य भी गदगद हैं। उनका कहना है कि कैलिफोर्निया जाने से पहले पीयूष ने कहा था कि वह घर वापसी करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button