गैंगरेप पीड़िता (Rape Victim) का आरोप, गांव छोड़ने पर मजबूर कर रही पंचायत

मुम्बई: महाराष्ट्र (Maharashtra) के बिड जिले से दिल देहला देने वाला मामला सामने आया है. जहां गांव की पंचायत ने गैंगरेप पीड़िता (Rape Victim) और उसके पूरे परिवार को गांव छोड़ने का फरमान सुनाया है. पीड़िता ने आरोप (Allegation) लगाते हुए कहा कि पंचायत द्वारा उसे गांव छोड़ने के लिए मजबूर किया जा रहा है. फ़िलहाल, शिकायत मिलने के बाद पुलिस मामले की छानबीन करने में जुट गयी है.

जानें पूरा मामला

मिली जानकारी के अनुसार ये पूरा मामला बीड जिले के पचेगांव का है. जहां बीते कुछ साल पहले एक महिला के साथ सामूहिक रूप से चार लोगों ने गैंगरेप (Gang rape) की घटना को अंजाम दिया था. जिसके बाद यह मामला कोर्ट (Court) तक पहुंच गया था. कोर्ट (Court) ने चारों युवकों को उम्र कैद की सजा भी सुना दी थी. घटना के बाद पूरे गांव वाले महिला और उसके परिवार वालों से काफी नाराज थे. गांव वालों ने पीड़िता और उसके परिवार के लोगों को परेशान करना शुरू कर दिया. इतना ही नहीं महिला को जान से मारने की कोशिश भी कई बार की गयी.

महिला का आरोप (Allegation) है कि गांव के लोग उसे धमका रहे है, साथ ही उससे गांव छोड़ने को भी कहा जा रहा है. गांव से बेदखल करने के लिए पंचायत में एक प्रस्ताव भी पारित किया गया. इतना ही नहीं, महिला जब पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराने पहुंची तो ग्रामीणों द्वारा एसपी ऑफिस में महिला के साथ बदतमीजी भी की गई. बता दे कि महिला और उसकी चार जवान बेटियां किसी तरह ग्रामीणों से बच- बचाकर एसपी ऑफिस तक पहुंचीं थीं.

यह भी पढें:

Related Articles