अंबानी की जियो इंस्टीट्यूट के कुलपति हो सकते हैं आर.ए माशेलकर, मोदी सरकार में भी मिला है अहम पद!

नई दिल्ली: देश के मशहूर वैज्ञानिक आर. ए. माशेलकर को मुकेश अंबानी की रिलायंस फाउंडेशन द्वारा प्रस्तावित जियो इंस्टीट्यूट का कुलपति बनाया जा सकता है। उनका नाम सरकारी समिति के पास भेजा गया है।

माशेलकर को एनडीए-2 सरकार ने 2016 में “राष्ट्रीय शोध प्रोफेसर” के रूप में नियुक्त किया था। वर्तमान में वह विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के तहत राष्ट्रीय नवाचार फाउंडेशन के प्रमुख हैं।

माशलेकर के अलावा, सासिन ग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन के पूर्व निदेशक दीपक सी जैन का नाम जियो इंस्टिट्यूट के अगले उप-कुलपति के रूप में चुना गया है। जैन रिलायंस इन्नोवेशन काउंसिल के चेयरमैन भी हैं। मशेलकर और जैन दोनों ही रिलायंस बोर्ड के सदस्य भी हैं।

दरअसल, रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की अगुआई वाली रिलायंस द्वारा प्रस्तावित जियो इंस्टीट्यूट देश का इकलौता ग्रीन फील्ड संस्थान है। इस संस्थान को आईआईएससी, आईआईटी-दिल्ली, आईआईटी बॉम्बे, बिट्स पिलानी और मनिपाल उच्च शिक्षण संस्थान के समकक्ष दर्जा मिल चुका है।

माना जा रहा है कि अब माशलेकर और जैन मिलकर कोर ग्रुप का गठन करेंगे, जो संस्थान के निर्माण में अगले तीन सालों तक मदद करेंगे। साथ  ही रिलायंस फाउंडेशन टीम का नेतृत्व करेगा।

टीम का मार्गदर्शन रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी करेंगे। अंबानी ने खुद अप्रैल में सरकार द्वारा गठित सक्षम विशेषज्ञों की समिति के सामने यह बात कही थी।

Related Articles