अमेरिका ने दी चीन को चुनौती , हिंद महासागर में तैनात किये दुनिया के सबसे ख़तरनाक उपकरण

अमेरिका और भारत के बीच तनाव

अमेरिका और चीन के बीच काफी लम्बे समय से तनातनी सुनने में आ रही है , हालही में अमेरिका ने हिंद महासागर स्थित डिएगो गार्सिया द्वीप पर अपने तीन घातक बी-2 स्टेल्थ बमवर्षक तैनात कर दिए हैं।

अमेरिका ने दिया चीन को संदेश

ताइवान और लद्दाख में भारत के साथ चीन के तनाव के बीच परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम इन विमानों को यहां तैनात किया गया है। अमेरिका ने इससे चीन को संकेत दिए हैं कि वह क्षेत्र में युद्ध की स्थिति पैदा नहीं करे।

सूत्रों का कहना है की , रडार की पकड़ से खुद को दूर रखने में माहिर यह बमवर्षक 12 अगस्त को डिएगो गार्सिया पहुंचे। यूएस इंडो-पैसिफिक कमांड के अंतर्गत आने वाले डिएगो गार्सिया द्वीप में इन विमानों की तैनाती से अमेरिका ने चीन को स्पष्ट संदेश दिया है कि वाशिंगटन हिंद महासागर, दक्षिण चीन सागर और प्रशांत के समुद्री क्षेत्र की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है।

रिश्तो के साथ मजबूत कर रहे सुरक्षा भी

अमेरिका का ये भी कहना हैं की हम अपने दोस्तों के साथ रिश्ते अच्छे कर रहे हैं साथ ही अपनी सुरक्षा को मजबूत कर रहे हैं |

Related Articles