अमेरिका ने भारत को दिया धोखा, टीका बनाने के कच्चे माल पर नहीं हटाया बैन, कहा अमेरिका पहले

उन्होंने कहा सिर्फ अमेरिका में ही लाखों लोगों को संक्रमण हुआ और साढ़े 5 लाख से ज्यादा मौतें हुई हैं। यह न केवल अमेरिका के हित में है बल्कि यह पूरी दुनिया के भी हित में है कि अमेरिका के तमाम लोगों को टीका लगना चाहिए।

नई दिल्ली: कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से जूझ रहे भारत देश को अमेरिका ने धोखा दे दिया है, इस वक्त तमाम अनुरोध के बावजूद भी अमेरिका ने भारत को टीका बनाने के कच्चे माल पर बैन नहीं हटाया है। अमेरिका ने कोविड-19 टीके के उत्पादन में लगने वाले मुख्य कच्चे माल के निर्यात पर लगाए गए प्रतिबंध के पक्ष में तर्क देते हुए कहा कि उसका पहला दायित्व अपने देश की जनता की जरूरत को देखना है।

इस वक्त अमेरिका में कोविड वैक्सीन के प्रमुख कच्चे माल के निर्यात पर प्रतिबंध लगा है, जिसके कारण भारत में वैक्सीन के विनिर्माण की गति धीमी हो गई है। विदेशी विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि बाइडन प्रशासन का पहला दायित्व अमेरिका के लोगों की जरूरत को पूरा करना है। विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने कहा, ‘‘यह अभियान बेहतर ढंग से चल रहा है और हम यह कुछ वजहों से कर रहे हैं। पहला, अमेरिकी लोगों के प्रति हमारी विशेष जवाबदेही है। दूसरा, किसी भी अन्य देश के मुकाबले अमेरिकी लोगों को इस बीमारी से सबसे ज्यादा नुकसान झेलना पड़ा है।

Understand India's pharmaceutical needs': US consider lifting ban on  Covid-19 vaccine raw material supply | World News – India TV

अमेरिका के हित में है बल्कि यह पूरी दुनिया के भी हित में है

उन्होंने कहा सिर्फ अमेरिका में ही लाखों लोगों को संक्रमण हुआ और साढ़े 5 लाख से ज्यादा मौतें हुई हैं। यह न केवल अमेरिका के हित में है बल्कि यह पूरी दुनिया के भी हित में है कि अमेरिका के तमाम लोगों को टीका लगना चाहिए।

उन्होंने आगे कहा कि जहां तक दुनिया के बाकी देशों की बात है पहले हम अपने दायित्व को पूरा करने के साथ जो कुछ भी कर सकेंगे वह करेंगे।” इस वक्त भारत में कोरोना वायरस के मामले कई गुना ज्यादा तेजी से बढ़ रहे हैं अगर बात करें शुक्रवार की तो 24 घंटे के दौरान 3.32 लाख में कोरोना संक्रमित मामले सामने आए हैं। जिसके साथ अब कुल मामले 1,62,63,695 तक पहुंच गए हैं वहीं सक्रिय मामलों की संख्या 24 लाख के पार पहुंच गई है।

यह भी पढ़े: Pakistan Prime Minister Imran Khan ने कहा: मैं कोरोना से लड़ रहे भारत के लोगों के साथ

Related Articles

Back to top button