अमेरिका ने 11 ‘हाई रिस्क’ देशों पर से हटाया प्रतिबंध, मगर राखी ये शर्तें

0

वॉशिंगटन। ट्रंप प्रशासन ने ज्यादा खतरे वाले 11 देशों के शरणार्थियों को बड़ी राहत देते हुए उन पर लगा प्रतिबंध हटा लिया। लेकिन अमेरिका में पनाह पाने के लिए उन देश ने शरणार्थियों को पहले की अपेक्षा और कड़ी सुरक्षा प्रक्रिया का सामना करना पड़ेगा। ट्रंप प्रशासन ने अपनी संशोधित शरणार्थी नीति में हालांकि इन 11 देशों के नाम का जिक्र नहीं किया है। लेकिन शरणार्थी समूहों के अनुसार इनमें मुस्लिम बहुल मिस्र, ईरान, इराक, लीबिया, माली, सोमालिया, दक्षिण सूडान, सूडान, सीरिया, यमन और उत्तर कोरिया शामिल हैं। इन सभी 11 देशों को अमेरिका ने उच्च जोखिम (हाई रिस्क) वाले देशों की सूची में शामिल कर रखा है।

इंटरनल सिक्यूरिटी जनरल किर्स्टजेन नीलसन ने एक बयान में कहा,इन अतिरिक्त सुरक्षा उपायों से असामाजिक तत्वों के द्वारा हमारे शरणार्थी कार्यक्रम का दोहन करना और मुश्किल हो जाएगा। उन्होंने कहा, अमेरिका को अवश्य ही वैश्विक समुदाय के प्रति अपनी बचनबद्धता पूरी करनी चाहिए, जो उत्पीड़न का सामना कर रहे हैं और इसे अमेरिकी लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए किया जाना चाहिए।

अमेरिका उच्च झोखिम सूची की समीक्षा प्रत्येक छह महीने में करता है और वह अपने सुरक्षा मापको के अनुसार किसी भी देश को अपने सूची में शामिल या घटा सकता है।

पिछले वर्ष अमेरिका ने वार्षिक शरणार्थी छमता को 45 हज़ार किया था, जिसपर अमेरिकी राष्ट्रपति ने हस्ताक्षर किए थे। वार्षिक आधार ये संख्या 1980 के बाद से सबसे निम्न थी।

loading...
शेयर करें