अमेरिका ने पाकिस्तान से कहा – अगर आतंकवाद पर कार्रवाई नहीं की, तो बर्बाद कर देंगे

0

वॉशिंगटन। आतंकवाद पर हर देश सख्त कदम उठा रहा है। आतंकियों की मदद करने वाला पाकिस्तान अब चारों तरफ से घिरता जा रहा है। भारत तो पहले से ही आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान के खिलाफ था और अब दुनिया का सबसे ताकतवर देश कहा जाने वाला अमेरिका भी भारत के साथ आ गया है। अमेरिका ने पाकिस्तान से साफ कहा है कि अगर आतंकवाद पर कड़ी कार्रवाई नहीं की तो उसकी फंडिंग बंद कर दी जाएगी।

आतंकवाद पर कड़ी कार्रवाई

अमेरिकी फंडिंग की शर्तों को और सख्त बनाया जाएगा

यूएस की प्रतिनिधि सभा ने पाकिस्तान को रक्षा क्षेत्र में मदद के लिए दी जाने वाली अमेरिकी फंडिंग की शर्तों को और सख्त बनाने के लिए 3 विधायी संशोधनों पर वोट किया है। इसमें शर्त रखी गई है कि वित्तीय मदद दिए जाने से पहले पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में संतोषजनक प्रगति दिखानी होगी। पाकिस्तान इन शर्तों का पालन कर रहा है या नहीं, यह देखने की जिम्मेदारी अमेरिकी रक्षा मंत्री की होगी।

पाकिस्तान पर कड़ी शर्तें लगाई जाएंगी

अमेरिका की प्रतिनिधि सभा ने वर्ष 2018 के बजट को पारित करते हुए इसमें तीन संशोधनों को भी ध्वनिमत से मंजूरी प्रदान की, जिनके जरिए पाकिस्तान पर कड़ी शर्तें लगाई जाएंगी। इन संशोधनों के अनुसार पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष में संतोषजनक प्रगति दिखानी होगी। मालूम हो कि कई अमेरिकी उच्चाधिकारियों और सांसदों ने आतंकियों एवं आतंकवाद को पाकिस्तान के खुले समर्थन पर गंभीर चिंता जताई है।

ट्रंप और मोदी की मुलाकात के बाद अमेरिका ने कदम उठाया

बता दें बीते दिनों प्रधानमंत्री मोदी अमेरिका दौरे पर गए थे, जहां की राष्ट्रपति ट्रंप के साथ काफी अच्छी मुलाकात हुई थी। पाकिस्तान को इन दोनों का मिलना काफी खटका था। साथ ही ये भी कहा जा रहा है कि अमेरिका ने ये सख्त कदम ट्रंप और मोदी की मुलाकात के बाद उठाया है।

loading...
शेयर करें