ताइवान के समर्थन में अमेरिका, चीन को दी चेतावनी

नई दिल्लीः ताइवान पर अपनी विस्तारवादी नीति के तहत दादागीरी दिखा रहे चीन को अमेरिका ने सतर्क किया है। अमेरिका ने ताइवान पर किए गए हमले के जवाब में चीन को चेतावनी दी है।

हाल ही में चीन के द्वारा ताइवान पर हमले के बाद अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ ब्रायन ने बुधवार को चीन को आगाह किया है। यूनिवर्सिटी ऑफ नेवाडा के एक कार्यक्रम में शिरकत करने के दौरान ब्रायन ने कहा कि, चीन ताइवान का बलपूर्वक विलय करने की कोशिश बिल्कुल ना करे। ताइवान में हमला करना बेहद मुश्किल साबित होगा। इस बारे में अंदाजा लगाना मुश्किल है कि अमेरिका इसका जवाब कैसे देगा।

अमेरिकी अधिकारी ओ ब्रायन के अनुसार दूसरे विश्व युद्ध से पहले ब्रिटेन की रॉयल नेवी का मुकाबला करने के लिए जिस तरह से जर्मनी अपनी सेना तैयार कर रहा था, ठीक उसी तरह चीन भी नौसेना को मजबूत करने में लगा हुआ है।

वहीं ताइवान पर चीनी हमले को लेकर उन्होंने कहा कि, ताइवान एक द्वीप है और द्वीप पर  लैंडिग इतनी आसान नहीं होती है। चीन और ताइवान के बीच 160 किमी की दूरी है। ताइवान पर हमला करना चीन के लिए आसान काम नहीं है।

गौरतलब है कि हाल ही में जापान में आयोजित क्वॉड समूह की बैठक में हिस्सा लेने पहुंचे अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने भी ताइवान पर चीन की बढ़ती दादागीरी पर बात करते हुए कहा था कि,  अमेरिका सुरक्षा के हर क्षेत्र में ताइवान का अच्छा सहयोगी बनेगा।

Related Articles