अमेरिका की युद्धविराम नीति नाकाम, आर्मेनिया और अजरबैजान में फिर शुरू हुआ युद्ध

अमेरिका द्वारा आर्मेनिया और अजरबैजान की जंग में युद्धविराम की पहल असफल हो गयी है। इसी के साथ दोनों देशों में फिर से जंग शुरू हो गयी है।

नई दिल्लीः अमेरिका द्वारा आर्मेनिया और अजरबैजान की जंग में युद्धविराम की पहल असफल हो गयी है। इसी के साथ दोनों देशों में फिर से जंग शुरू हो गयी है।

दरअसल सोमवार को अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने आर्मेनिया और अजरबैजान में संघर्षविराम की घोषणा की थी, जिसके बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस पहल की सराहना करते हुए ट्वीट कर कहा था कि, युद्ध थमने से कई लोगों की जान बच गयी है।

हालांकि मिन्स्क समूह की तरफ से की गयी अमेरिका की संघर्षविराम की नीति नाकाम हो गयी है और दोनों देशों ने एक-दूसरे पर सीजफायर का उल्लघंन का आरोप लगाते हुए युद्ध शुरू कर दिया है।

अजरबैजान के रक्षा मंत्रालय ने एक बयान जारी कर आरोप लगाया कि, अर्मेनिया की सेना ने उसके ठिकानों को निशाना बनाया है। वहीं आर्मेनिया ने इन दावों को सिरे से खारिज करते हुए अजरबैजान पर मिसाइल दागने का आरोप लगाया है।

वहीं रूस के मुताबिक 27 अक्टूबर से शूरू हुए इस युद्ध में 5 हजार से ज्यादा सैनिकों सहित आम नागरिकों की मौत हो चुकी है। वहीं युद्ध शुरू होने के बाद दोनों देशों में तीन बार युद्धविराम लगू करने की कोशिश की गयी।

इससे पहले रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने संघर्ष विराम की घोषणा की थी, लेकिन महज चंद घंटो बाद दोनों देशों में फिर से युद्ध शुरू हो गया था।

Related Articles

Back to top button