अमेरिकी विशेषज्ञों का दावा, Covaxin कोरोना वायरस के 617 वैरिएंट्स को कर सकती है बेअसर

वाशिंगटन: जहाँ एक तरफ कोरोना महामारी ने लोगो में नाकारात्मकता भर दी है वहीँ दूसरी तरफ अमेरिका से एक सकारात्मक खबर सुर्ख़ियों में है। अमेरिका के शीर्ष शीर्ष महामारी विशेषज्ञ (Epidemiologist) डॉक्टर एंथॉनी फॉसी (Dr Anthony Fauci) मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए एक अच्छी खबर सुनाई। वे व्हाइट हाउस के प्रमुख मेडिकल एडवाइजर भी हैं। उन्होंने कहा कि भारत में बनी वैक्सीन कोवैक्सीन (Covaxin) कोरोना वायरस के 617 वैरिएंट्स को बेअसर करने में सक्षम है।

अमेरिकी विशषज्ञों के अनुसार Covaxin है रामबाण

फॉसी ने कहा ‘हम भारत में जो असल मुश्किल देख रहे हैं, उसके बावजूद टीकाकरण इसके खिलाफ बहुत ही अहम एंटीडोट साबित हो सकता है. उन्होंने कहा स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन (Covaxin) वायरस के 617 वैरिएंट्स को मारने में सक्षम है। बता दें कोवैक्सीन (Covaxin) को भारत बायोटेक ने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के साथ मिलकर बनाया है। इसे बीती 3 जनवरी को आपातकालीन इस्तेमाल के लिए अनुमति दे दी गई थी।

न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार कोवैक्सीन (Covaxin) SARS-CoV-2 कोरोना वायरस के खिलाफ इम्यून सिस्टम को एंटीबॉडी बनाना सिखाने का काम करती है। एंटीबॉडीज सतह से जुड़े रहने वाले कथित स्पाइक प्रोटीन्स की तरह वायरल प्रोटीन से जुड़ी होती है।

भारत की मदद के आशय में व्हाइट हाउस के कोविड-19 रिस्पॉन्स के सीनियर एडवाइजर डॉक्टर एंडी स्लैविट ने कहा कि हम इस दुखद घड़ी में भारत के साथ खड़े है। साथ ही उन्होंने का कि हम थैरेप्यूटिक्स, रैपिड टेस्टिंग किट्स, वेंटिलेटर्स, पीपीई और वैक्सीन निर्माण के लिए कच्चे माल समेत संसाधन मुहैया कराने पर काम कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: Corona Vaccination : 1 मई से टीकाकरण के लिए आज से रजिस्ट्रेशन शुरू, जानें कैसे और कहां करें खुद को रजिस्टर

Related Articles