अमेरिका के शिकागो में हजारों अफ्रीकी-अमेरिकी नागरिकों का विरोध प्रदर्शन

वाशिंगटन: अमेरिका के शिकागो में हजारों की संख्या में अफ्रीकी मूल के अमेरिकी नागरिकों ने विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने डैन रेयान एक्सप्रेस को बंद कर दिया। यह विरोध प्रदर्शन अफ्रीकी मूल के लोगों पर हिंसा की निंदा करने के लिए किया गया।

समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, सेंट सैबिना कैथोलिक चर्च के पास्टर रेवरेंड माइकल फ्लेगर के नेतृत्व में यह मार्च निकाला गया।

उन्होंने कहा कि उनका यह विरोध प्रदर्शन अहिंसक है और शांति के लिए किया गया है। जैसे ही मार्च शुरू हुआ, राज्य की पुलिस ने 76वीं स्ट्रीट पर प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया।

इस मार्च में शामिल 62 साल के प्रदर्शनकारी जेम्स करी ने कहा कि अफ्रीकी-अमेरिकी समुदाय के लोगों को शहर में बेहतर शिक्षा की जरूर है क्योंकि कोई भी बच्चा यह कहते हुए बड़ा नहीं होता कि वह गैंगस्टर बनना चाहता है।

कई प्रदर्शनकारियों के हाथों में पोस्टर थे, जिन पर लिखा था, “हमें रोजगार चाहिए’, ‘हिंसा रोको’, ‘अब ड्रग वॉर नहीं’, ‘हमारे स्कूलों को बचाओ’ और ‘अश्वेतों की जिंदगियां भी अमूल्य हैं’।

गौरतलब है कि शिकागो में इस साल अब तक इस तरह की नस्लभेदी हिंसा में 271 लोगों की मौत हो गई जबकि 1,435 घायल हुए हैं।

Related Articles