अमित शाह ने चेन्नई में नवनिर्मित पांचवें जलाशय का किया लोकार्पण

केन्द्रीय गृह मंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता अमित शाह ने चेन्नई में नवनिर्मित पांचवें जलाशय का शनिवार को लोकार्पण किया तथा चेन्नई मेट्रो रेल परियोजना के दूसरे चरण की आधारशिला रखी।

चेन्नई: केन्द्रीय गृह मंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता अमित शाह ने चेन्नई में नवनिर्मित पांचवें जलाशय का शनिवार को लोकार्पण किया तथा चेन्नई मेट्रो रेल परियोजना के दूसरे चरण की आधारशिला रखी। इससे पहले अमित शाह दिल्ली से चेन्नई पहुंचे। बाद में वह यहां कलैवनर आरंगम पहुंचे जहां उन्होंने 67,378 करोड़ रुपये की बुनियादी ढांचा परियोजनाओं की आधारशिला रखी। इस अवसर पर तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई के पलानीस्वामी, उपमुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम, अन्य मंत्री तथा वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

करीब 90 मिनट के कार्यक्रम के दौरान अमित शाह ने पड़ोस के तिरुवल्लुर जिले में 380 करोड़ की लागत से निर्मित थर्वाेय कांदिगई जलाशय का उद्घाटन किया तथा 61,843 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली चेन्नई मेट्रो रेल के दूसरे चरण की आधारशिला रखी। नवनिर्मित जलाशय से शहर के लोगों की पेयजल आवश्यकताओं के अलावा अन्य जरूरतें भी पूरी होंगी।

ये भी पढ़े : राष्ट्रीय कैडेट कोर आज मनाएगी अपना 72वां स्थापना दिवस

जलाशय का निर्माण दो झीलों

इस जलाशय का निर्माण दो झीलों, थर्वोय कांदिगई और कन्ननकोट्टई को मिलाकर किया गया है जो 1,495 एकड़ में फैला हुआ है। यह शहर के लिए पांचवा जलाशय होगा। इससे पहले चार मुख्य जलाशयों-पोण्डी, शोलावरम, रेडहिल्स और चेम्बरमबक्कम – जिनमें 11,257 एमसीएफटी की कुल भंडारण क्षमता है। नये जलाशय से साढ़े छह करोड़ लीटर प्रति दिन पानी की आपूर्ति शहर को की जाएगी।

ये भी पढ़े : नंबर एक जोकोविच पर शानदार जीत से थिएम पहुंची फाइनल में

परियोजना के दूसरे चरण की आधारशिला रखी

अमित शाह ने शहर के परिवर्तनकारी परिवहन सुविधा में बदलाव लाने वाली चेन्नई मेट्रो रेल परियोजना के दूसरे चरण की आधारशिला रखने के अलावा कोयम्बटूर-अविनाशी एलिवेटेड हाईवे प्रोजेक्ट (1,620 करोड़ रुपये), करूर जिले में नानजई पुगलुर में कावेरी नदी के उपर बैराज (406 करोड़ रु), चेन्नई ट्रेड सेंटर का विस्तार (309 करोड़ रुपये), वल्लूर में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन पीओएल टर्मिनल (900 करोड़ रु), अमूल्यइवोयल में ल्यूब प्लांट (1400 करोड़ रु) और कामराजार पोर्ट में एक नई जेट्टी के निर्माण (900 करोड़ रु) का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए नींव भी रखी।

Related Articles

Back to top button