नाराज़ दलितों को मनाने आज लखनऊ आ रहे अमित शाह, हो सकता है बड़ा फेरबदल

लखनऊ। बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज नाराज चल रहे दलित सांसदों को मनाने लखनऊ आ रहे हैं। कई दलित नेता इन दिनों नाराज़ चल रहे हैं। पीएम मोदी को पत्र लिखकर भी अपनी नाराजगी जाहिर कर चुके हैं। इसके साथ ही अपना दल और सुहेलदेव समाज पार्टी जैसे सहयोगी दल भी बीजेपी को ताने दे रहे हैं।

अमित शाह बुधवार दोपहर साढ़े 12 बजे पहुंचेंगे और आज ही देर रात वापस दिल्ली लौट जाएंगे। शाह प्रदेश संगठन और सरकार को लेकर मंथन करेंगे। पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में वरिष्ठ नेताओं के साथ विचार-विमर्श करेंगे। इस बार अमित शाह प्रदेश के मंत्रियों के साथ सीएम हाउस में बैठक करेंगे। ये फैसला इसलिए लिए गया है ताकि बैठक की बातें बाहर लीक नहीं हो।

यूपी से बीजेपी के 4 सांसद इन दिनों पार्टी के ख़िलाफ़ बोलने लगे हैं। दलितों की अनदेखी के बहाने इन नेताओं ने पीएम नरेन्द्र मोदी तक को चिट्ठी लिख दी है। इनका आरोप है कि मोदी राज में दलितों के लिए कोई काम नहीं हुआ है। सावित्री बाई फूले ने तो लखनऊ में रैली तक कर दी। इटावा के एमपी अशोक दोहरे का आरोप है कि भारत बंद के बहाने दलितों पर झूठे मुक़दमे हो रहे हैं, दलितों के मुद्दे पर बीजेपी बैकफ़ुट पर है।

मोदी सरकार के चार साल पूरे हो रहे हैं और योगी सरकार के एक साल पूरे हो चुके हैं। बीजेपी के अंदर और बाहर दोनों जगह से चुनौतियां मिल रही हैं। माना जा रहा है कि शाह अपने दौरे से पार्टी में बढ़ते असंतोष को दबाने का वह नया फॉर्मूला दे सकते हैं।

 

Related Articles