आम्रपाली ग्रुप के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, CEO और डायरेक्टर गिरफ्तार, ऑफिस सील

0

लखनऊ। देश के बड़े बिल्डर कंपनी में शामिल ‘आम्रपाली’ के खिलाफ प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए ग्रुप के सीईओ रितिक कुमार सिन्हा और कंपनी निदेशक निशांत मुकुल को गिरफ्तार किया है। सोमवार को इन दोनों की गिरफ्तारी हुई। राजस्व विभाग व नोएडा पुलिस टीम ने लेबर सेस का भुगतान न करने के आरोप में आम्रपाली ग्रुप के सेक्टर-62 स्थित कार्यालय से इन्हें गिरफ्तार किया।

आम्रपाली कंपनी पर 4. 29 करोड़ रुपए का बकाया

जब आम्रपाली ग्रुप द्वारा लेबर सेस की धनराशि का नहीं किया जाता तब तक इन दोनों आज़ाद नहीं किया जायेगा। जानकारी के मुताबिक, लेबर सेस के रूप में आम्रपाली कंपनी पर 4. 29 करोड़ रुपए का बकाया था जिसे चुकाने में कंपनी आनाकानी कर रही थी। धनराशि जमा कराने के लिए विभाग ने आम्रपाली समूह को नोटिस जारी किया। लेकिन इसके बाद भी कंपनी ने भुगतान नहीं किया।

फिर श्रम विभाग ने आरसी जारी किया। फिर कंपनी को कोई फर्क नहीं पड़ा। जिसके बाद सोमवार को तहसीलदार दादरी पीएल मौर्य के नेतृत्व में राजस्व विभाग की टीम व नोएडा सेक्टर-58 थाना पुलिस आम्रपाली के सेक्टर 62 स्थित कार्यालय पहुंची।

जब तक रकम का भुगतान नहीं होता तब तक हवालात में ही रहेंगे दोनों 

इस टीम ने कंपनी को रकम चुकाने के लिए लिए करीब एक घंटे का वक्त दिया। उसके बाद भी कंपनी ने इस रकम का भुगतान नहीं तब टीम ने आम्रपाली समूह के सीईओ ऋतिक कुमार सिन्हा व निदेशक निशांत मुकुल को गिरफ्तार कर लिया। दोनों को हवालात में बंद कर दिया। एसडीएम दादरी अमित कुमार ने बताया कि धनराशि का भुगतान होने तक दोनों हवालात में बंद रहेंगे।

loading...
शेयर करें