आग लगने का बहाना बना घर में घुसे बदमाश, लूटा 40 तोला सोना

0

नोएडा
नोएडा के सेक्टर-8 में रहने वाले कारोबारी के घर में मंगलवार रात को 2 बदमाशों ने घुसकर चाकू के बल पर करीब 15 लाख रुपये की जूलरी और नकदी लूट ली। लूट के बाद बदमाशों ने घर के पर्दे में आग लगा दी और वहां से फरार हो गए। आग लगने पर जब घर के बाकी लोग उठे तो उन्हें घटना का पता चला। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के बताया कि झूठ बोल कर बदमाशों ने दरवाजा खुलवाया, सेक्टर 8 में विजय सिंह पत्नी, तीन बेटों और बहुओं के साथ रहते हैं। वह लकड़ी का कारोबार करते हैं। मंगलवार रात करीब 9 बजे उनका बड़ा बेटा विनय, छोटा बेटा सचिन और पत्नी बाला दिल्ली में एक शादी समारोह में गए थे। बाकी लोग घर में अपने-अपने कमरों में सोए हुए थे। रात करीब 10:30 बजे दो युवक उनके घर पहुंचे। उन्होंने सचिन के कमरे के बाहर लगा बल्ब उतारा और फिर अंदर सोई उनकी पत्नी शालू को आवाज लगाई कि भाभी दरवाजा खोलो। बाहर आग लग गई है। उनकी आवाज सुनकर शालू ने जैसे ही दरवाजा खोला एक युवक चाकू लेकर अंदर घुस गया और दूसरा बाहर खड़ा हो गया।

बदमाशों ने चुन्नी से महिलाओं को बांध घटना को अंजाम दिया

अंदर घुसे युवक ने जान से मारने की धमकी देकर चुन्नी से उनका मुंह और हाथ-पैर बांधकर एक ओर डाल दिया। इसके बाद लात मारकर लोहे की अलमारी का हैंडल तोड़ने की कोशिश की। शालू के मुताबिक, जब हैंडल नहीं टूटा तो उस युवक ने बैग में से चाबियों का गुच्छा निकाला और अलमारी खोल दी। इसके बाद 35-40 तोले सोना और ढाई लाख रुपये कैश निकालकर बैग में भर लिया। जब वह लूट का सामान बैग में भर रहा था तभी बाहर खड़ा युवक बोला कि जल्दी करो विनय-सचिन आ जाएंगे।

घर लूट कर पर्दे में लगा दी आग

यह सुनते ही वह युवक बाहर निकला और कमरे के बाहर लगे पर्दे में आग लगा दी। साथ ही चिल्लाया कि आग लग गई है, कोई बुझाओ। शोर सुनकर जैसे ही विजय सिंह साथ वाले कमरे से बाहर निकले, दोनों युवक भाग गए। इसके बाद उन्होंने पानी डालकर पर्दे की आग बुझाई। जब वे सचिन के कमरे में पहुंचे तो वहां शालू बंधी हुई हालत में मिलीं। बड़ी बहू को बुलवाकर उन्होंने उनकी चुन्नी खुलवाई और पुलिस को सूचना दी। सचिन ने बताया कि उनकी मां ने सुरक्षा के लिहाज से अपना और तीनों बहुओं के गहने नीचे शालू के पास ही रखे थे। बदमाशों को शायद इस बात की जानकारी हो गई थी। इसलिए टारगेट करके केवल उनके कमरे को ही निशाना बनाया गया।

loading...
शेयर करें