महाराष्ट्र सरकार के एक विचार से माता पिता की चिंताए बढ़ाई

कल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने इस बात की सूचना दी के ग्रामीण क्षेत्रों में पांचवी से आठवी कक्षा तक स्कूलें शुरू होंगे वहीं शहरी क्षेत्रों में 9-12 कक्षा तक स्कूलें शुरू होंगी।

मुंबई: 17 अगस्त से स्कूल शुरू करने का विचार कर रही है। कल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने इस बात की सूचना दी के ग्रामीण क्षेत्रों में पांचवी से आठवी कक्षा तक स्कूलें शुरू होंगे वहीं शहरी क्षेत्रों में 9-12 कक्षा तक स्कूलें शुरू होंगी। अब सवाल यह खड़ा हो रहा है की महाराष्ट्र सरकार की इस विचार से क्या बच्चों के माता-पिता स्कूलों में फिर से उन्हें भेजने के लिए तैयार हैं या नहीं ये बड़ा सवाल उठता है।

शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने सूचना दी है की राज्य सरकार अब तक विचार कर रही है और योजना बना रही है कि कैसे ग्रामीण क्षेत्रों में 5-8 कक्षा तक बच्चों को स्कूल में बुलाया जायेगा वहीँ शहरी इलाकों में 9-12 कक्षा तक की योजना बनाई जा रही है।

शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़
शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़

माता पिता ने जाहिर की चिंताए

वहीँ माता-पिता की यह भी मांग है कि वह स्कूलों में टीचरों को वैक्सीन के दोनो टिके लगे होने चाहिए और एक दिन छोड़कर बच्चों को आधे संख्या में बुलाना चाहिए, जैसे की 25 बच्चे एक दिन और 25 दूसरे दिन। वही दूसरी तरफ देखा जाये तो कुछ माता-पिता का मानना है कि सरकार का विचार बेहद ज़रूरी और अच्छा है, क्योंकि कई बच्चे ऑनलाइन सीखने के वक़्त पढाई में ध्यान नहीं देते और गेमों पर ज्यादा ध्यान देते हैं। वहीं, स्कूलों में व्यवहारिक ज्ञान मिलता है और शारीरिक गतिविधियां भी होती है।

वही शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने सूचना दी की राज्य सरकार अब तक विचार कर रही है और योजना बना रही है कि कैसे ग्रामीण क्षेत्रों में 5-8 कक्षा तक बच्चों को स्कूल में बुलाया जायेगा वहीँ शहरी इलाकों में 9-12 कक्षा तक की योजना बनाई जा रही है।

यह भी पढ़ें: Akshay Kumar ने छुए Kapil Sharma के पैर तो हुआ कुछ ऐसा

Related Articles