जाह्नवी कपूर की फिल्म ‘गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल’ को बॉयकॉट करने वालों पर अंगद बेदी को आया गुस्सा, कही ये बात

मुंबई: बॉलीवुड एक्ट्रेस जाह्नवी कपूर की फिल्म ‘गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल’ का ट्रेलर हाल ही में रिलीज हुआ था। उसके बाद से सोशल मीडिया पर स्टारकिड्स की फिल्मों को बॉयकॉट करने की बात शुरू हो गयी। अब जाह्नवी कपूर को स्टार और उनके ऑन स्क्रीन भाई अंगद बेदी ने फिल्म को मिले आलोचनाओं के खिलाफ स्टैंड लिया है। उन्होंने फिल्म का बॉयकॉट करने वालों को करार जवाब दिया है।
एक्टर अंगद बेदी ने कहा, ‘यह मेरी भी फिल्म है। हर किसी को अपनी राय देने का अधिकार है। फिल्म को जो रिस्पॉन्स मिल रहा है वह सही नहीं है। हर इंडस्ट्री में कॉम्पिटिशन है। खुद का उदाहरण देते हुए अंगद ने बताया, ‘मैंने 300 से ज्यादा फिल्मों के लिए ऑडिशन दिया है और हर रिजेक्शन कुछ अनुभव सिखाती है।
उन्होंने आगे कहा- सूरमा में मेरी भूमिका ने मुझे यह फिल्म दिलाई। मैं शशांक से मिलने गया था जिसमे मुझे शरण से मिलवाया। किरदार के लिए टेस्ट करने के बाद शरण ने कारण से कहा की वह मुझे इस किरदार के लिए चाहते हैं। इंडस्ट्री में लाखों लोग हैं। इसलिए ये सही है की हर किसी को मौका मिले। एक्टर्स भी दूसरे प्रोफेशनल्स की तरह है जो पे चेक के लिए काम करते हैं।

‘गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल’ में जान्हवी कपूर के साथ विनीत जैन और मानव विज अहम किरदार में हैं। फिल्म का निर्माण करण जोहर ने अपनी प्रोडक्शन कंपनी धर्मा प्रोडक्शन के बैनर तले किया है। यह फिल्म 12 अगस्त को नेटफ्लिक्स पर रिलीज होगी। फिल्म में पंकज त्रिपाठी और अंगद बेदी अहम भूमिकाओं में नजर आएंगे।

हाल ही में जाह्नवी कपूर ने अपने सफर के बारे में कई बातें बताई थीं। जाह्नवी कपूर ने कहा था कि यह सब अपने काम के प्रति आपने जो लगन के साथ कड़ी मेहनत की है, वह दिखतीं हैं। आपका दृष्टिकोण बहुत सरल था, अगर आप कड़ी मेहनत करते रहो, तो आपको जो चाहिए वह मिल ही जाएगा। जाह्नवी ने कहा कि जैसे गुंजन सक्सेना ने समाज के निर्माण या लैंगिक पूर्वाग्रह या किसी भी चीज कीं उसके दिमाग में बाधा नहीं बनने दीं या फिर उसने कभी खुद को प्रताड़ित भी नहीं किया, बल्कि इसके बजाय सिर्फ अपने काम पर ध्यान केंद्रित कर कड़ी मेहनत से समाज को अपनी योग्यता मानने पर मजबूर कर दिया, जो मुझे सबसे ज्यादा प्रेरित करती है।”

Related Articles