पत्रकारों की जासूसी मामले पर युवा Congress का फूटा गुस्सा, देखें Video

फोन टैपिंग मामले को लेकर भारतीय युवा कांग्रेस ने इस मसले पर केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया है

नई दिल्ली: फोन टैपिंग (Phone Tapping) मामले को लेकर देश में एक बार फिर से हंगामा शुरू हो गया है। इस मामले पर विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार पर हमला बोलना शुरू कर दिया है। भारतीय युवा कांग्रेस (Indian Youth Congress) ने इस मसले पर केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया है। वहीं युवा कांग्रेस ने मांग की है कि जल्द से जल्द जेपीसी (JPC) द्वारा और सर्वोच्च न्यायालय की निगरानी के तहत इस जासूसी कांड की जांच होनी चाहिए।

‘जासूसी का धंधा’

भारतीय युवा कांग्रेस के अनुसार, इजराइली सॉफ्टवेयर पेगासस (Pegasus) द्वारा पत्रकारों की, विपक्षी नेताओं की और सरकार के मंत्रियों की, एंव सर्वोच्च न्यायालय के न्यायधीश की जासूसी के विरोध में केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी (Srinivas BV) ने कहा ‘जब अंग्रेज थे, तब भी ‘जासूसी’ इनका धंधा था, आज जब नही है तब भी जासूसी का धंधा जारी है, आखिर सुधरेंगे कब? 7 साल बीत गए सिर्फ इस ख्याल में कि वो हमारे ‘मन की बात’ नहीं सुनते। 7 साल बाद खुलासा हुआ तो पता लगा की पेगासस बनकर व्हाट्सएप, गैलरी आदि में बैठकर ‘मन की बात’ सुन भी रहे थे, देख भी रहा थे’।

 

 

युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन तो किया ही इसके साथ ही सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की है हालांकि इस दौरान दिल्ली पुलिस ने कार्यकर्ताओं को हिरासत में भी लिया। कार्यकर्ताओं के अनुसार, प्रधानमंत्री, राजनीतिक विरोधियों के साथ-साथ अब पत्रकार, जज, उद्योगपति, खुद के वरिष्ठतम मंत्री और यहां तक की RSS की लीडरशिप को भी नहीं बख्शा है।

यह भी पढ़ेLok Sabha में हंगामा, PM मोदी बोले- दलित, महिला सांसद को मंत्री नहीं देखना चाहता विपक्ष

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles