टैब नहीं मिलने पर नाराज होकर मजदूर का बेटा उठाया ऐसा कदम

नई दिल्ली:महाराष्ट्र के बीड जिले के गेवराई तालुका में उक्त गन्ना मजदूर का परिवार रहता है.ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए गन्ना तोड़ मजदूर पिता से कक्षा 10 में पढ़ने वाले अभिषेक ने टैब की मांग की थी. पिता के पास पैसे नहीं थे. उन्होंने कहा कि कुछ दिनों में कहीं से पैसों का बंदोबस्त करके टैब दिलवा देंगे. पर बेटे ने टैब नहीं मिलने से नाराज होकर आत्महत्या कर ली.अब तक मिली जानकारी के अनुसार पिता ने कहा था कि अभी खरीफ फसल की बोवनी का वक्त है, कटाई होने के बाद पैसे मिलते ही वे टैब दिला देंगे.पर अभिषेक ने आत्महत्या कर ली.गौरतलब है कि कोरोना वायरस महामारी के चलते स्कूलें बंद हैं. स्कूलों की ऑनलाइन कक्षाएं चल रही हैं. इसके लिए विद्यार्थियों को कम्प्यूटर, टैबलेट या फिर मोबाइल की जरूरत होती है. इसके अलावा इंटरनेट की भी जरूरत होती है. गरीबों के लिए अपने बच्चों को यह सुविधाएं दिलाने में आर्थिक बोझ आड़े आ रहा है.महाराष्ट्र में गन्ना तोड़ने की मजदूरी करने वाले एक व्यक्ति के बेटे ने टैब नहीं मिलने से नाराज होकर आत्महत्या कर ली. महाराष्ट्र के बीड जिले के गेवराई तालुका में यह घटना हुई. मृत लड़के का नाम अभिषेक संत बताया जा रहा है.

Related Articles