बंद पड़े स्कूल खुलते ही राज्य सरकार का एक और फैसला, अब शिक्षकों और परिजनों को…

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण (COVID-19) में आई कमी के योगी सरकार ने एक बंद बड़े स्कूलों को खोल तो दिया ही है और साथ ही अब संक्रमण से बचाव के लिए बड़ा फैसला लिया है। राज्य सरकार ने यूपी (UP) के सभी शिक्षकों और कर्मचारियों के लिए कोरोना टीकाकरण अनिवार्य कर दिया है। सरकार के निर्देश के मुताबिक, स्कूल खुलने के साथ ही शिक्षकों और परिजनों को कोरोना वैक्सीन लगाना होगा।

बेसिक शिक्षा निदेशक ने गुरुवार को सभी बीएसए को निर्देश जारी कर दिया है। आदेश के मुताबिक, शिक्षकों के साथ कर्मचारियों और उनके परिवार का भी टीकाकरण कराना अनिवार्य कर दिया है। अशासकीय सहायता प्राप्त, मान्यता प्राप्त, परिषदीय, उच्च प्राथमिक विद्यालयों के सभी शिक्षकों और कर्मचारियों को टीकाकरण कराना होगा। शिक्षकों और कर्मचारियों को भी शत प्रतिशत टीकाकरण अनिवार्य कर दिया गया है।

गौरतलब है कि कोरोना काल के दौरान कई महीनों से बंद पड़े स्कूल हाल ही में खोले गए हैं। कोरोना मामले अधिक बढ़ने के बाद स्कूलों को मार्च 2020 से बंद कर दिया गया था। यूपी के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल के मुताबिक, प्रदेश में कोविड के मामले लगातार कम हो रहे हैं। यूपी अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बुधवार को बताया कि राज्य में कोविड वैक्सीन की 9,61,118 डोज़ लगाई गई। अब तक 6,22,81,084 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज़ और 1,18,79,444 लोगों को दूसरी डोज लगाई है।

 

Related Articles