IPL
IPL

देश में एक और निर्भया कांड, महाराष्ट्र में चलती बस में युवती के साथ रेप

मुंबई : देश की सरकारें महिला सुरक्षा (Female safety) के नाम पर तमाम बड़े-बड़े दावे करती है, लेकिन हकीकत तो यह है कि देश के हर हिस्से,  हर राज्य में महिलाओं के साथ अपराध दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है। हर घंटे बलात्कार को लेकर कहीं ना कहीं से खबरें आती रहती हैं। 2013 में दिल्ली में निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya Gang Rape) के बाद लगता था की चीजें बदलेंगी, देश की जनता जागरूक होगी। वहीं केंद्र सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए निर्भया फंड (Nirbhaya Fund) की भी व्यवस्था की लेकिन राज्य सरकारों ने इस फंड का इस्तेमाल करना ही उचित नहीं समझा।

देश के नेताओं को महिला सुरक्षा की याद सिर्फ चुनाव के समय आती है और जनता को महिला सुरक्षा की याद पीड़िता की मौत के बाद आती है। 2013 में जिस तरह से निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya Gang Rape) ने पूरे देश को झकझोर दिया था, ठीक उसी प्रकार 2021 में महाराष्ट्र (Maharashtra) के वाशिम (Washim) जिले से बलात्कार (rape) का दिल दहला देने वाला वाकया सामने आया है। यहां सड़क पर चलती एक लग्जरी बस में बस के क्लीनर ने महिला के साथ बलात्कार (rape) कर दिया। चलती बस में क्लीनर ने महिला के साथ दो बार रेप किया और जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गया।

इसे भी पढ़े:  लखनऊ के डायल 112 में तैनात महिला सिपाही ने की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस

पीड़ित महिला ने राजन गांव पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कराई है जहां पर पुलिस ने जीरो एफआईआर दर्ज कर इस मामले को घटनास्थल वाले जिले वाशिम के मालेगाव पुलिस (Malegaon Police) को भेज दिया है। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह एक प्राइवेट स्लीपर बस (Private sleeper bus) में यात्रा कर रही थी। बस पुणे (Pune) से नागपुर (Nagpur) की तरफ जा रही थी बीच रास्ते में बस का क्लीनर ने उसको 5 नंबर सीट से उठाकर 15 नंबर सीट पर जाने को कहा। पीड़िता को वहां पर जाने के बाद क्लीनर ने उसे बस से नीचे फेंकने की धमकी देकर उसके साथ दो बार रेप किया।

पीड़िता की शिकायत के बाद मालेगाव पुलिस ने बस को कब्जे में ले लिया है और पुलिस टीम क्लीनर की गिरफ्तारी के लिए छानबीन शुरू कर दी है। जानकारी के मुताबिक पीड़िता गोदियां इलाके की रहने वाली है, और पुणे के एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करती है।

Related Articles

Back to top button