IPL
IPL

अजान पर आपत्ति के बाद योगी सरकार के मंत्री का एक और बयान, मुस्लिम महिलाओं को…

बलिया: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के राज्यमंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल ने मस्जिद से अजान की आवाज पर दिए गए बयान के बाद अब बुर्के को लेकर बड़ा बयान दिया हैं। राज्यमंत्री ने बुर्के को अमानवीय व्यवहार और कुप्रथा करार देते हुए कहा कि देश में तीन तलाक की तरह अब देश में मुस्लिम महिलाओं (Muslim women) को बुर्के से भी मुक्ति दिलाएंगे। उन्होंने कहा है कि भारत देश में आने वाले समय में बुर्का पहनने के लिए मुस्लिम महिलाओं (Muslim women) पर किसी तरह का दबाव नहीं होगा वह अपने स्वेच्छा से पहन सकेंगे।

राज्यमंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल ने इस बयान से पहले बीते दिन मंगलवार को मस्जिद में लगे लाउडस्पीकर से होने वाली अजान से परेशानी की बात कहते हुए बलिया की जिलाधिकारी अदिति सिंह को पत्र लिखा था। वहीं बुधवार को आनन्द स्वरूप शुक्ल ने पत्रकारों से बुर्के को अमानवीय व्यवहार करार देते हुए कहा कि देश में मुस्लिम महिलाओं को बुर्के से भी मुक्ति दिलाई जाएगी। उन्होंने कहा, अनेक मुस्लिम देशों में बुर्के पर पाबंदी है और यह अमानवीय व्यवहार है। देश में विकसित सोच वाले लोग न तो बुर्का पहनते हैं और न ही इसे बढ़ावा देते है।

ये भी पढ़ें : दिलीप घोष ने ममता को दी ऐसी सलाह की TMC में मचा घमासान, जानें पूरा मामला

अजान को लेकर जताई थी आपत्ति

राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने मदीना मस्जिद से अजान को लेकर मंगलवार को बलिया जिलाधिकारी को पत्र लिखकर अपनी आपत्ति जताई है। उन्होंने पत्र में मस्जिद की लाउडस्पीकर से अजान के चलते शोर और ध्वनि प्रदूषण का का मामला लिखा है। इसके अलावा उन्होंने लिखा है कि अजान की आवाज से आने वाले शोर की वजह से लोगों की दिनचर्या, पठन-पाठन प्रभावित होती है और सुबह-सुबह योग, ध्यान, पूजा-पाठ, शासकीय कार्यो में भी व्यवधान पड़ता है।

ये भी पढ़ें : एग्जाम टेंशन करेगा कम GOOGLE का यह टूल

 

 

Related Articles

Back to top button