किसान आंदोलन में घुस आयी भारत विरोधी ताकतें अन्नदाताओं की छवि कर रही हैं धूमिल: सुशील

मोदी ने शुक्रवार को सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर ट्वीट कर कृषि सुधार कानूनों के विरोध में चल रहे किसान आंदोलन में शामिल लोगों को आड़े हाथों लिया और कहा कि आखिर कौन है

पटना: बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और राज्यसभा के सदस्य सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि किसान आंदोलन में घुस आयी भारत विरोधी ताकतें अन्नदाताओं की छवि को धूमिल कर रही हैं।

मोदी ने शुक्रवार को सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर ट्वीट कर कृषि सुधार कानूनों के विरोध में चल रहे किसान आंदोलन में शामिल लोगों को आड़े हाथों लिया और कहा कि आखिर कौन है जो अन्नदाता किसान की भारत विरोधी छवि बना रहा है। साथ ही संसद से पारित कानूनों को रद्द करने की जिद को हवा दे रहा है। उन्होंने कहा कि ये साबित करता है कि दिल्ली के किसान आंदोलन में भारत विरोधी ताकतें घुस आयी हैं या कुछ किसान संगठन ऐसी ताकतों का एजेंडा चला रहे हैं।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता ने कहा, “किसान आंदोलन के नाम पर हाईवे जाम करना, उसमें टुकडे-टुकडे गैंग के छात्र नेताओं की फोटो लगाकर उनकी रिहाई की मांग करना, खालिस्तान के समर्थन में नारे लगना और देश के दो औद्योगिक घरानों के व्यवसाय को निशाना बनाना..ये आखिर है क्या। ”

यह भी पढ़े: योगी मंत्रिमंडल द्वारा सैमसंग इंडिया के विशेष प्रोत्साहन प्रस्ताव को मिली मंजूरी

यह भी पढ़े: इंदौर: हनी ट्रैप आरोपियों को इलेक्ट्रॉनिक प्रमाणों की प्रतियां देने से एसआइटी का इन्कार

Related Articles