Anti-Narcotics Cell की खास पहल, स्कूल के Online Class के माध्यम से जागरुकता लाने की कोशिश

अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस पर मुंबई एंटी-नारकोटिक्स सेल DCP ने बताया कि स्कूल के ऑनलाइन क्लास के माध्यम से हम वहां जागरुकता लाने की कोशिश करेंगे

मुंबई: मुंबई पुलिस (Mumbai Police) की एंटी-नारकोटिक्स सेल (Anti-Narcotics Cell) ने अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस (International Anti-Drug Day) पर एक बाइक रैली निकाली। इस दौरान एंटी-नारकोटिक्स सेल के DCP ने बताया कि, अगले 15 दिन कई कार्यक्रम होंगे। जिसमें स्कूल के ऑनलाइन क्लास के माध्यम से हम वहां जागरुकता लाने की कोशिश करेंगे।

दिल्ली पुलिस का बयान

अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस पर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) कमिश्नर एस. एन. श्रीवास्तव ने बताया कि सभी देशों में ये समझा गया होगा और वे इस निष्कर्ष पर पहुंचे होंगे कि किस प्रकार ड्रग्स (Drugs) का दुरुपयोग हो रहा है। खासकर कम उम्र के युवा इसे नहीं समझते और इसका दुरुपयोग करके खुद को नुकसान पहुंचाते हैं।

कमिश्नर ने कहा कि नशीली ड्रग से जो अनुभव होता है वो काल्पनिक है। उससे कोई फायदा नहीं होता। जो समाज का सामना नहीं कर पाता और कमजोर होता है वो इन ड्रग का इस्तेमाल करके असलियत से बचता है। ये बात सभी को समझनी चाहिए। ड्रग का इस्तेमाल करके आप खुद पर दूसरों(ड्रग्स) को नियंत्रण दे देते है।

अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस का उद्देश्य

अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस (International Anti-Drug Day) हर साल 26 जून को मनाया जाता है। नशीली वस्तुओं और पदार्थों के निवारण हेतु ‘संयुक्त राष्ट्र महासभा’ ने 7 दिसंबर 1987 को प्रस्ताव संख्या 42/112 पारित किया। जिसके बाद 26 जून को हर साल ‘अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस’ मनाने का निर्णय लिया गया था। इस दिन नशा निरोधक के प्रति अभियान, रैलियां, पोस्टर डिजाइनिंग और कई अन्य कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। इस दिन को विभिन्न देशों के लोग एक साथ मनाते हैं।

यह भी पढ़ेPM मोदी के साथ Jammu and Kashmir के नेताओं की सर्वदलीय बैठक, उमर अब्दुल्ला ने कहीं ये बात

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles