सरकारी नौकरी करने वालो के अलावा अब इन्हें भी मिलेगी पेंशन, न ले टेंशन, सरकार दे रही सुविधा

नई दिल्ली: समाज के लोगो का मानना है कि सरकारी नौकरी करने वालो को ही बुढ़ापे में पेंशन का लाभ मिलता है। लेकिन ऐसा नहीं है, केंद्र सरकार अब हर वर्ग के लोगो के लिए सोच रही है। अब केंद्र सरकार कामगार, मजदूर, निजी कंपनी के कर्मचारी, बिजनेसमैन से लेकर निजी क्षेत्रों में काम करने वालों को भी पेंशन की सुविधा दे रही है।

केंद्र सरकार आपको सुविधा देने के लिए एक योजना बनाई है जिसके तहत आप फायदा उठा सजते है। इसके लिए कई लोग अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) में निवेश कर के 60 साल बाद बुढ़ापे में आजीवन पेंशन का लाभ उठा रहे हैं। सरकार ने ये योजना शुरू की है जो छोटे-छोटे अमाउंट निवेश कर पाते हैं। जिनकी बचत काफी कम है।

वर्ष 2020-21 में अटल पेंशन योजना और नेशनल पेंशन सिस्टम के खाताधारकों की संख्या में तेजी से बढ़ रही है। 31 मार्च 2021 तक इस योजना में कुल खाताधारकों की संख्या बढ़कर 4.24 करोड़ हो गई है। इसमें यदि पति-पत्नी दोनों निवेश करते हैं तो 60 साल बाद दोनों को मिलाकर 10,000 रुपए महीने की पेंशन मिलती है। इससे आपको कभी छोटी-छोटी जरूरतों के लिए किसी के सामने हाथ फैलाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

योजना से जुड़ने के लिए ये हैं शर्तें

इस योजना का लाभ पाने के लिए न्यूनतम उम्र 18 साल और अधिकतम उम्र 40 साल होनी चाहिए। सबसे कम प्रीमियम 18 साल की उम्र में योजना का लाभ लेने पर देना पड़ता है। 30 साल के ऊपर की उम्र वालों को सबसे ज्यादा प्रीमियम देना पड़ता है। चूंकि पेंशन की न्यूनतम राशि 1000 मासिक और अधिकतम 5000 मासिक तय की गई है। प्रीमियम देते समय पेंशन की राशि को भी आधार बनाया जाता है।

पेंशनधारक की मृत्यु हो गई तो…

पेंशन ले रहे व्यक्ति की अगर मृत्यु हो गई तो पेंशन नॉमिनी को आजीवन मिलता रहेगा। इस योजना के तहत पेंशन प्लान लेने पर इनकम टैक्स में सेक्शन 80 CCD (1B) के तहत निवेशक को 50,000 की इनकम टेक्स डिडक्शन प्रदान की जाएगी। 60 साल से पहले अगर किसी की मृत्यु हो जाती है उस अवस्था में भी पेंशन उसके नॉमिनी को प्रदान किया जाएगा। किसी भी बैंक में या पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवाकर इसका लाभ लिया जा सकता है।

Related Articles