शबनम के अलावा इस महिला ने भी खौफनाक घटना को दिया था अंजाम, अब हो रहा फांसी का इंतजार

नई दिल्ली: आजाद भारत में ऐसा पहली बार हो रहा है कि किसी महिला को फांसी दी जाएगी। प्रेमी के साथ मिलकर परिवार के सात लोगों को कुल्हाड़ी से काटकर मार देने वाली अमरोहा की शबनम को फांसी होने जा रही है। इसके लिए उत्तर प्रदेश की मथुरा की महिला जेल में तैयारियां शुरू हो गई हैं। बस डेथ वारंट जारी होते ही शबनम को फांसी दे दी जाएगी। लेकिन शबनम के अलावा एक और ऐसी महिला है। जो फांसी का इंतजार कर रही है। आखिर वह महिला कौन इसके बारे में हम आपको जानकारी देंगे।

बेटी ने खौफनाक घटना को दिया था अंजाम

हरियाणा की रहने वाली सोनिया ने अपने पिता समेत 8 लोगों की निर्मम हत्या कर दी थी। सोनिया के पिता रेलूराम हिसार से विधायक थे। सोनिया ने 29 सितंबर 1998 में जूडो एक्सपर्ट संजीव सिंह से लव मैरिज की थी। लेकिन इस शादी से सोनिया के पिता रेलूराम खुश नहीं थे। जिससे सोनिया को डर था कि पिता उसे संपत्ति में हिस्सा नहीं देंगे। इसको लेकर सोनिया ने एक खौफनाक घटना को अंजाम दिया।

देखें वीडयो: 

23 अगस्त 2001 को सोनिया की बहन प्रियंका का हिसार फॉर्म हाउस पर जन्मदिन का जश्न मनाने के लिए परिवार के सभी लोग इकठ्ठा हुए थे। तभी सोनिया ने अपने पति के साथ मिलकर मौके का फायदा उठाकर पिता रेलूराम, मां कृष्णा, बहन प्रियंका, भाई सुनील, भाभी शकुंतला और उसके तीन मासूम बच्चों की हत्या कर जश्न को मातम में बदल दिया।

2004 में सेशन कोर्ट ने सोनिया और उसके पति संजीव को फांसी की सजा सुनाई। जिसे 2005 में हाई कोर्ट ने उम्रकैद में बदल दिया। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने वापस सेशन कोर्ट की सजा बरकरार रखने का फैसला किया। समीक्षा याचिका होने के बाद सोनिया और उसके पति ने राष्ट्रपति के पास दया याचिका लगाई। जिसे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने ठुकरा दिया। अब इन दोनों की फांसी का इंतजार हो रहा है।

यह भी पढ़ें: शबनम ने नम आंखों से अपने बेटे को दी ऐसी नसीहत जो कोई मां अपने बेटे से नहीं कहती

Related Articles

Back to top button