‘बेगम अख्तर पुरस्कार’ के लिए 15 जून तक करें आवेदन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के संस्कृति विभाग द्वारा विगत वर्ष 2017-18 की भांति वर्ष 2018-19 में मल्लिका-ए-गजल बेगम अ़ख्तर की स्मृति में दादरा/ठुमरी/गजल विद्याओं में प्रतिभावान गायक को ”बेगम अख्तर पुरस्कार” से सम्मानित किये जाने के लिए पात्र महानुभावों के नामांकन 15 जून तक मांगा गया है। संस्कृति विभाग के सचिव जगत राज ने बताया कि चयनित कलाकार को 5 लाख रुपये की धनराशि, अंगवस्त्र एवं प्रशस्ति पत्र भेंट स्वरूप प्रदान की जायेगी। बेगम अ़ख्तर पुरस्कार के लिए विचार किये जाने वाले कलाकार की जन्मभूमि/कर्मभूमि उत्तर प्रदेश होनी चाहिए तथा उसकी आयु 40 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए।

उन्होंने बताया कि उप्र संगीत नाटक अकादमी, लखनऊ, भातखण्डे संगीत संस्थान सम-विश्वविद्यालय, लखनऊ, भारतेन्दु नाट्य अकादमी, लखनऊ, अयोध्या शोध संस्थान, अयोध्या, राष्ट्रीय कथक संस्थान, लखनऊ, गीत एवं नाटक प्रभाग, लखनऊ, उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र इलाहाबाद, भारतीय सांस्कृतिक सम्बद्ध परिषद, लखनऊ आकाशवाणी, लखनऊ, दूरदर्शन केन्द्र, लखनऊ उ0प्र0 में स्थित विश्वविद्यालयों के संगीत संकाय के डीन/हेड अथवा विभिन्न जनपदों के जिलाधिकारियों/मण्डलायुक्तों से नामांकन मांगे जा रहे हैं। पुरस्कार सम्बन्धी नियमावली एवं निर्धारित प्रारूप वाला आवेदन पत्र संस्कृति विभाग, उ.प्र. की वेबसाइट पर प्राप्त किया जा सकता है।

बता दे कि बेगम अख्तर पुरस्कार प्रत्येक वर्ष एक ऐसे प्रतिभावान विशिष्ट गायक को प्रदान किया जाता है, जिसने दादरा, ठुमरी, गजल की विधाओं में अपने व्यक्तिगत प्रयासों से उत्कृष्ट आयाम स्थापित किया हो तथा इन विधाओं से राष्ट्र के गौरव में अभिवृद्धि की है। गौरतलब है कि पद्मभूषण मल्लिका-ए-गजल मल्लिका-ए-गजल बेगम अ़ख्तर की स्मृति को चिरस्थायी बनाने एवं विरासत का संवर्धन करने के उद्देश्य से बेगम अख्तर शताब्दी वर्ष 2014-15 में ‘बेगम अख्तर पुरस्कार’ की स्थापना की गयी थी।

Related Articles