ब्रिटेन (Britain) में एस्ट्राजेनेका वैक्सीन (AstraZeneca Vaccine) के इस्तेमाल की मंजूरी

लंदन: कोरोना महामारी को रोकने के लिए सभी देश तेजी से वैक्सीन बनाने का काम कर रहे हैं। और अपने नागरिकों को जल्द से जल्द बेहतर कोरोना की वैक्सीन दिलाने को लेकर काम तेज कर दिया है। अमेरिका में लाखों लोगों को कोरोना का टीका लग चुका है। अमेरिका के अलावा कई देशों को कोरोना की वैक्सीन मिलने वाली है। ऐसे में ब्रिटेन ने ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय की ओर से विकसित एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है।

ब्रिटेन के मेडिसीन एंड हेल्थकेयर प्रोडक्ट रेगुलेटरी अथॉरिटी (MHRA) ने यह मंजूरी दी है। MHRA के इस कदम से कोविड-19 के रोकथाम में मदद मिलेगी और उन हजारों उम्रदराज लोगों को वैक्सीन की खुराक दी जाएगी, जिन्हें इसकी सर्वाधिक जरुरत है।

MHRA का मानना है कि एस्ट्राजेनेका का संग्रहण अन्य वैक्सीन की तुलना में अधिक सुविधाजनक है और इसे केवल 2-8 सेल्सियस तापमान में सुरक्षित रखा जा सकता है जिससे इसके परिवहन में आसानी होगी। MHRA के मुताबिक ब्रिटेन में एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की पहली खेप की आपूर्ति पहले ही हो चुकी है। और यहां की फैक्ट्रियों में और वैक्सीन बनाये जायेंगे। इसके अलावा एक करोड़ खुराक के ऑर्डर दिये जा चुके हैं जिनमें 40 लाख खुराक अगले कुछ दिनों में उपलब्ध हो जाएगी।

यह भी पढ़ें: एक बार फिर डेनमार्क ( Denmark ) में कोविड प्रतिबंध 17 जनवरी तक बढ़े

Related Articles