भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने लागू किया ताजमहल के लिए नई टिकट प्रणाली

0

आगरा : भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने सोमवार को ताजमहल के लिए एक नई टिकट प्रणाली लागू की, जिसका मकसद 17वीं शताब्दी के सफेद संगमरमर से बनी इस विश्व धरोहर को मानवीय प्रभाव से बचाना और भीड़ प्रबंधन करना है।


आगरा के एएसआई प्रमुख वसंत कुमार स्वर्णकार ने कहा कि नई टिकट प्रणाली सोमवार सुबह से प्रभावी हो गई है।
एएसआई के मुताबिक, मुगल सम्राट शाहजहां और उनकी पत्नी मुमताज महल की कब्रों के साथ मुख्य मकबरे में प्रवेश करने के लिए आगंतुकों को अब 200 रुपये अतिरिक्त भुगतान करना होगा।

घरेलू पर्यटक पहले सिर्फ 50 रुपये का भुगतान करते थे। विदेशी आगंतुकों को भी 1,100 रुपये के प्रवेश शुल्क के अलावा 200 रुपये का टिकट भी खरीदना होगा।राष्ट्रीय पर्यावरण अभियांत्रिकी अनुसंधान संस्थान ने मुख्य संरचना में आगंतुकों की संख्या को कम करने में मदद के लिए मूल रूप से दो टिकट सुझाए थे।

पर्यटन उद्योग ने टिकट के दाम बढ़ाने की निंदा की है, उसने इस कदम से पर्यटकों की संख्या में कमी होने की आशंका जताई है।

loading...
शेयर करें