Army Recruitment 2021: सेना भर्ती पेपर लीक मामले में अब तक की बड़ी करवाई

नई दिल्ली : सेना भर्ती (Army recruitment) पेपर लीक मामले में बड़ी कार्रवाई की गई है। सोमवार को एक संयुक्त कार्रवाई में सेना भर्ती में पेपर लीक का रैकेट चलाने वाले पांच और आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले, पुणे जिले से सेना भर्ती रैकेट चलाने के लिए दो पूर्व-सेना कर्मियों सहित तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया था। सोमवार को गिरफ्तार पांचों आरोपियों की पहचान किशोर गिरी, भरत, योगेश गोसाई और माधव गीते के रूप में हुई है।

एक संयुक्त ऑपरेशन में भारतीय सेना के सैन्य खुफिया और पुणे शहर पुलिस की स्पेशल टीम के अधिकारियों ने सेना भर्ती पेपर लीक मामले के संबंध में पांच और लोगों को गिरफ्तार किया है, इसके अलावा एक एफआईआर भी दर्ज किया गया है। इसके साथ ही पेपर लीक मामले में अब तक आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है और पुणे शहर पुलिस द्वारा दो अलग-अलग एफआईआर दर्ज की गई हैं। अधिकारियों को इस मामले में और भी लोगों के शामिल होने का संदेह है। जिसके लिए छानबीन जारी है।

इसे भी पढ़े: हांगकांग के मामलों में हस्तक्षेप करने पर चीन ने इस बड़े देश को दी धमकी

बता दें कि पुलिस को सूचना मिली थी कि 28 फरवरी को पुणे में आयोजित होने वाली भारतीय सेना भर्ती (Army recruitment) परीक्षा का पेपर लीक करने के लिए गिरोह सक्रीय हो गए है। जिसके बाद पुलिस ने सेना को सूचना देने के बाद छानबीन शुरू कर दी थी और वहीं सेना ने पेपर लीक का मामला सामने आने के बाद परीक्षा स्थगित कर दी थी।

पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने परीक्षा में बैठने वालों को सेना में भर्ती करने का वादा किया था और उन्हें लीक हुए पेपर के लिए 2 लाख से 3 लाख रुपये देने को कहा था। सभी आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करके आगे की जांच की जा रही है।

Related Articles

Back to top button