बिहार में महिला को जिंदा जलाने वाला गिरफ्तार, हाजीपुर में 17 दिन पहले दिया था वारदात को अंजाम

इस मामले के बाद से ही तीनों आरोपी फरार चल रहे थे। एक की गिरफ्तारी के बाद दो साथियों की तलाश की जा रही है। हाल ही में बिहार में डिप्टी सीएम बनी रेणु देवी ने इस केस में जांच के आदेश दिए हैं।

हाजीपुर: बिहार के हाजीपुर में एक महिला को जिंदा जलाने वाले केस के मुख्य आरोपीचंदन राय को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उसके दो साथियों की तलाश की जा रही है। इसके साथ स केस में लापरवाही बरतने वाले क एसएचओ को भी निलंबित कर दिया गया है। हाल ही में बिहार में डिप्टी सीएम बनी रेणु देवी ने इस केस में जांच के आदेश दिए हैं।

जिंदा जलाने वाले दो आरोपियों के लिए लगातार छापेमारी

दो और अपराधियों को पकड़ने के लिए पुलिस लगातार कई जगहों पर छापेमारी कर रही है। अधिकारी पर आरोप था कि उसने मामले की गंभीरतार को नजरअंदाज करते हुए केस को सही तरह से नही संभाला।

गांव वालों ने किया पुलिस और सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

गुलनाज को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां पर इलाज के दौरान 15 दिन बाद उसकी मौत हो गई। गुलनाज की मृत शरीर के उसके घर पहुंचने पर लोगों ने सरकार और पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन करना शुरू कर दिया।

गुलनाज को दबंगों ने जिंदा था जलाया

हाजीपुर की रहने वाली गुलनाज के साथ छेड़खानी करने पर विरोध करने के कारण तीन दबंगों ने उसे जिंदा जला दिया। गुलनाज की उम्र 20 साल थी। अपने ही गांव के ही कुछ लड़के उसके साथ बत्तमीजी कर रहे थे जिसका उसने विरोध किया। उसके बाद तीनो लड़कों ने उस पर मिट्टी का तेल छिड़कर उसे जिंदा जला दिया।

पुलिस का बयान नही करे कोई भी लापरवाही

पुलिस के काफी मनाने के बाद परिवार जनों ने गुलनाज का अंतिम संस्कार किया। इस मामले में परिवार वालों का आरोप है कि पुलिस ने जांच में लापरवाही की है। इस आरोप पर पुलिस ने सफाई दी है कि इस मामले की जांच स्पेशल टीम कर रही है और हम इस संजीदा मामले में कोई लापरवाही नही कर रहे।

30 अक्टूबर की रात हुआ था हादसा

गौरतलब है कि 30 अक्टूबर की रात में रसूलपुर की रहने वाली गुलनाज खातून के साथ तीन लड़कों ने बदसलूकी की थी जिसका उसने विरोध किया उसके बाद उन बदमाशों ने गुलनाज खातून को जिंदा जला दिया था।

इस मामले के बाद से ही तीनों आरोपी फरार चल रहे थे। वैशाली के एसपी ने बताया कि इस मामले में 2 नवंबर को केस दर्ज कर लिया गया था उसके बाद से ही आरोपियों की तलाश की जा रही है।

ये भी पढ़ें : CM योगी ने बद्रीनाथ धाम में की पूजा, पर्यटक आवास गृह का किया भूमि पूजन

Related Articles

Back to top button