प्रधानमंत्री की हत्या के साजिश में (एनएसएस) अर्तुर गिरफ्तार

प्रधानमंत्री निकोल पशिनियन की हत्या के साजिश में अर्तुर वनेत्स्यान गिरफ्तार

येरवान: अर्मेनिया की राष्ट्रीय सुरक्षा सेवा (एनएसएस) के पूर्व प्रमुख अर्तुर वनेत्स्यान को प्रधानमंत्री निकोल पशिनियन की हत्या तथा तख्तापलट की साजिश रचने के संदेह में हिरासत में लिया गया है।

अवैध रूप से हथियार एकत्रित

आधिकारिक वकील ल्युसिन साहक्यान ने फेसबुक पर लिखा, “आज वनेत्स्यान को राष्ट्रीय सुरक्षा सेवा विभाग ने जांच के लिए बुलाया था और उन्हें अवैध रूप से हथियार एकत्र करने तथा राजनीतिक व्यक्ति की हत्या और तख्ता पलट की साजिश रचने के संदेह में हिरासत में ले लिया गया।”

प्रधानमंत्री के इस्तीफे की मांग

वनेत्स्यान प्रधानमंत्री के इस्तीफे की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शनों में भाग लेते रहे है। वकील के अनुसार हिरासत को लेकर विपक्ष की ओर अभी तक कोई टिप्पणी नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि यह एक शर्मनाक राजनीतिक उत्पीड़न है जिसका उद्देश्य सत्ता के लिए विरोधी को समाप्त करना है।

पहाड़ी पर आर्मीनिया

आर्मीनिया पश्चिम एशिया और यूरोप के काकेशस क्षेत्र में स्थित एक पहाड़ी देश है जो चारों तरफ़ ज़मीन से घिरा है। 1990 के पूर्व यह सोवियत संघ का एक अंग था जो एक राज्य के रूप में था। सोवियत संघ में एक जनक्रान्ति एवं राज्यों के आजादी के संघर्ष के बाद आर्मीनिया को 23 अगस्त 1990 को स्वतंत्रता प्रदान कर दी गई, परन्तु इसके स्थापना की घोषणा 21 सितंबर, 1991 को हुई एवं इसे अंतर्राष्ट्रीय मान्यता 25 दिसंबर को मिली। इसकी राजधानी येरेवन है।

आरंभिक युद्ध

अर्मेनियाई मूल की लिपि आरामाईक एक समय भारत से लेकर भूमध्य सागर के बीच प्रयुक्त होती थी। पूर्वी रोमन साम्राज्य और फारस और अरब दोनों क्षेत्रों के बीच अवस्थित होने के कारण मध्य काल से यह विदेशी प्रभाव और युद्ध की भूमि रहा है जहाँ इस्लाम और ईसाइयत के कई आरंभिक युद्ध लड़े गए थे।

यह भी पढ़े:यमलोक नहीं के लिए करें, भैयादूज पर यमराज की पूजा, चील उड़ने पर शुभ संकेत

यह भी पढ़े:भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश सारंग का 80 साल की उम्र में निधन 

Related Articles

Back to top button