अब हॉकी इंडिया के विवाद में फंसे जेटली, बेटी भी आए घेरे में

नई दिल्‍ली। डीडीसीए के बाद वित्‍त मंत्री अरुण जेटली अब हॉकी इंडिया के विवाद में फंसते नजर आ रहे हैं। भारतीय हॉकी महासंघ के अध्यक्ष केपीएस गिल ने दिल्ली सरकार से अनुरोध है किया कि वह जेटली के हॉकी इंडिया में हितों के टकराव की जांच करे।

पढ़ें : DDCA मामला: बीजेपी ने कीर्ति आजाद को किया सस्पेंड

पूर्व पुलिस अधिकारी गिल ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर आरोप लगाया कि जेटली ने अपनी बेटी सोनाली को हॉकी इंडिया का वकील नियुक्त किया। उस वक्‍त वह हॉकी इंडिया लीग के सलाहकार बोर्ड में थे। हालांकि हॉकी इंडिया के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताया।

हॉकी महासंघ के सचिव अशोक माथुर ने कहा, ‘गिल ने केजरीवाल से हॉकी इंडिया में जेटली के हितों के टकराव की जांच करने को कहा है। हॉकी इंडिया दिल्ली रजिस्ट्रार ऑफ सोसायटीज के तहत रजिस्टर्ड है। इसलिए दिल्ली सरकार के पास इस मामले की जांच करने का पूरा अधिकार है।’

इससे पहले जेटली दिल्‍ली जिला क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) के विवाद में फंसे हैं। केजरीवाल ने उनके खिलाफ जांच आयोग गठित कर दिया है। जवाब में जेटली ने केजरी समेत छह आम आदमी पार्टी नेताओं पर 10 करोड़ रुपए की मानहानि का दावा ठोंका है।

इस बीच बुधवार शाम को भाजपा नेता कीर्ति आजाद को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है। उन्‍होंने ही मुख्‍य रूप से डीडीसीए का मामला उठाया था। हालांकि जेटली ने उनके खिलाफ किसी तरह का केस दर्ज नहीं कराया था।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button