जेटली ने कांग्रेस-केजरीवाल पर फेंका फेसबुक बम

arun_jaitley_624x351_reuters

नई दिल्‍ली। वित्‍त मंत्री ने गुरुवार को फेसबुक पर कांग्रेस व दिल्‍ली के सीएम केजरीवाल के खिलाफ गुस्‍सा उतारा। उन्‍होंने संसद न चलने के लिए कांग्रेस को जिम्‍मेदार बताया।

फेसबुक पोस्‍ट में लिखा, ‘लोकतंत्र में विरोध का पूरा स्‍थान है लेकिन संसद के दो सत्र विरोध की राजनीति की भेंट चढ़ गए।’ उन्‍होंने दावा किया कि कांग्रेस सदस्‍यों का कहना था कि सदन नहीं चलने देने का फैसला पार्टी हाईकमान का है।

वित्‍त मंत्री ने कहा, ‘1933 से स्‍टैंडिंग कमेटी अपना काम बेहतर ढ़ग से कर रही है। राज्‍यसभा में इस कमेटी को लगातार मतभेदों का शिकार बनाया गया। सदन को बार-बार सेलेक्‍ट कमेटी नियुक्‍त करनी पड़ी।’

उन्‍होंने कांग्रेस पर तीखा हमला करते हुए कहा, ‘पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू को देश लोकतंत्र में स्‍वस्‍थ परपंराएं शुरू करने वाले इंसान के तौर पर याद करेगा। वहीं उनकी पार्टी कांग्रेस को विरासत में मिली इन परंपराओं को खत्‍म करने वाली पार्टी के तौर पर याद किया जाएगा।’ उन्‍होंने कहा, जीएसटी बिल अटका हुआ है। इसका खामियाजा देशवासियों को भुगतना पड़ रहा है।

जेटली ने केजरीवाल को भी आड़े हाथ लिया। पोस्‍ट में लिखा, ‘क्‍या भारतीय राजनीति में अभद्रता एक नई परंपरा बन गई है। कछ दिन पहले बीजेपी के नेताओं ने बयानबाजी की। हमारी पार्टी ने इसे बेहद गंभीरता से लिया और पार्टी अध्‍यक्ष ने उन्‍हें सख्‍त हिदायत दी। उस नसीहत के बाद नतीजे देश के सामने हैं।’

वित्‍तमंत्री ने लिखा, दिल्‍ली के सम्‍मानित मुख्‍यमंत्री देश के प्रधानमंत्री के बारे में जिस भाषा का प्रयोग करते हैं, उसे किस तरह लिया जाए? मुख्‍यमंत्री ने विधानसभा के अंदर व बाहर बेहद खराब शब्‍दों का प्रयोग पीएम के लिए किया।

उन्‍होंने लिखा, उच्‍च पदों पर बैठ लोगों को भाषा के स्‍तर पर संयम बरतना चाहिए। अभद्रता राजनीति में स्‍वीकार्य नहीं होगी। राजनीतिक मतभेदों का इस्‍तेमाल सभ्‍य भाषा में भी किया जा सकता है। इस समय राजनीति को जिस तरह निचले स्‍तर पर ढकेला जा रहा है, वह विरोध करने योग्‍य है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button