अरविंद केजरीवाल बोले-हम मप्र से बिजली खरीद दिल्लीवालों को सस्ती रेट में देते हैं

0

इंदौर| मध्यप्रदेश की व्यावसायिक नगरी इंदौर पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार मध्यप्रदेश से बिजली खरीदती है और वहां के उपभोक्ताओं को मध्यप्रदेश के उपभोक्ताओं के मुकाबले आधी से कम दर पर देती है। वही बिजली मध्यप्रदेश के उपभोक्ताओं को दोगुना से ज्यादा दाम पर मिल रही है। आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक ने यहां के सुगनी देवी परिसर में रविवार को आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में 200 यूनिट बिजली जलाने पर उपभोक्ता को 1327 रुपये देने होते हैं, जबकि दिल्ली में सिर्फ 550 रुपये, इसी तरह 400 यूनिट बिजली जलाने पर मध्यप्रदेश में 3012 रुपये लगते हैं, जबकि दिल्ली में 959 रुपये।


अरविंद केजरीवाल ने कहा, “दिल्ली में बिजली का उत्पादन नहीं होता, हम दूसरे राज्यों से बिजली खरीदते हैं, उनमें मध्यप्रदेश भी शामिल है। इसके बावजूद हमारे यहां मध्यप्रदेश से सस्ती बिजली है।”

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल करते हुए कहा, “मैं प्रधानमंत्री से उम्र और पद में बहुत छोटा हूं, मगर फिर भी पूछना चाहता हूं कि क्या भारत देश दुनिया का नंबर वन देश हिंदू-मुस्लिम करने से बनेगा? यह मेरे दिल का दर्द है जो आज आपके सामने जाहिर कर रहा हूं।”

प्रधानमंत्री पर तंज कसते हुए केजरीवाल ने कहा, “दुनिया में तकनीक और विकास की बात हो रही है और हमारे प्रधानमंत्री हिंदू-मुस्लिम की बात करते हैं। इससे साफ है कि बीते चार साल में केंद्र सरकार ने जीरो काम किया है।”

आप प्रमुख ने रविवार को अखबारों में छपी खबरों का हवाला देते हुए कहा, “दुनिया में विकास, 5जी की बात हो रही है और हमारे देश के प्रधानमंत्री कांग्रेस को मुस्लिमों की और भाजपा को हिंदू की पार्टी बता रहे हैं, इससे साफ है कि चार साल में उन्होंने कुछ नहीं किया है। अगर कुछ किया होता तो वोट के लिए समाज को बांटने वाली बात करने की जरूरत उन्हें नहीं पड़ती। हमारे देश का हाल तो यह है कि यहां 3जी भी ठीक से काम नहीं कर रहा।”

प्रधानमंत्री की पार्टी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा, “भाजपा कहती है कि वो हिंदुओं की पार्टी है तो कम से कम हमारे हिंदुओं के बच्चों की ही नौकरी लगवा दो! हिंदुओं के बच्चों को ही अच्छी शिक्षा दिलवा दो! किसी के लिए कुछ तो करो।”

आप प्रमुख ने कहा, “सब इंसान बराबर हैं, चाहे वो किसी धर्म या जाति के हों। हमें ऐसा भारत बनाना है जहां सभी धर्म और जाति के लोगों में भाईचारा और मोहब्बत हो, न कि नफरत और बैर हो।”

देश को दुनिया का नंबर वन देश बनाने की चाबी शिक्षा को बताते हुए केजरीवाल ने कहा, “भारत को दुनिया में नंबर एक का देश बनाना है तो सबसे पहले हर बच्चे को शिक्षा देना होगी। इस देश में दुनिया के सबसे ज्यादा प्रतिभावान बच्चे पैदा होते हैं। जो दुनिया के कई देशों में काम कर रहे हैं।”

केजरीवाल ने राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी (आप) की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल के नाम का ऐलान किया।

आप के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा, “आप के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल आईआईटी-कानपुर से पढ़े हैं, वे विदेश नौकरी करने नहीं गए, चाहते तो हजारों डॉलर की पगार पर विदेश जा सकते थे, मगर उन्होंने ऐसा नहीं किया। आप के लिए काम कर रहे हैं, लिहाजा पार्टी ने उन्हें मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने का फैसला लिया है।”

दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, “दिल्ली में साढ़े तीन साल में हाल यह हो गया है कि वहां के लोग अपने बच्चों को निजी स्कूलों से निकालकर सरकारी स्कूलों में भर्ती करा रहे हैं। ऐसी ही शिक्षा व्यवस्था मध्य प्रदेश सहित अन्य राज्यों में करनी होगी, शिवराज को करने नहीं आता तो हमें बताएं, हमारे शिक्षामंत्री मनीष सिसौदिया उन्हें सिखा देंगे।”

मंच पर पहुंचते ही बिजली गुल हो जाने पर मध्यप्रदेश की सरकार पर जमकर तंज कसते हुए केजरीवाल ने कहा, “जब दूसरे राज्य का मुख्यमंत्री आए और बिजली चली जाए तो मैं इस राज्य की जनता का हाल समझ सकता हूं।”

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में बिजली की जो हालत है, यही हाल साढ़े तीन साल पहले दिल्ली का था, वहां स्थिति काफी बदल गई है। यहां 15 साल से शिवराज सिंह चौहान की सरकार है। दिल्ली में साढ़े तीन साल पहले इन्वर्टर वालों, जनरेटर वालों की खूब चांदी थी, मगर आज हालत यह है कि इन्वर्टर की सारी दुकानें बंद हो गई हैं। इतना ही नहीं, लोग जनरेटर खरीदना भी भूल गए हैं।

loading...
शेयर करें